NDTV Khabar

कोलकाता में मांसाहारी व्यंजन खाने से पहले एहतियात बरत रहे हैं लोग

कोलकाता के शीर्ष रेस्त्रां मालिकों ने कहा कि पुलिस द्वारा मरे हुए पशुओं के मांस की बिक्री करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ होने के बाद लोग मांसाहारी व्यंजन खाने से पहले काफी एहतियात बरत रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कोलकाता में मांसाहारी व्यंजन खाने से पहले एहतियात बरत रहे हैं लोग

(फाइल फोटो)

कोलकाता:

कोलकाता के शीर्ष रेस्त्रां मालिकों ने कहा कि पुलिस द्वारा मरे हुए पशुओं के मांस की बिक्री करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ होने के बाद लोग मांसाहारी व्यंजन खाने से पहले काफी एहतियात बरत रहे हैं. होटल एंड रेस्टोरेंट्स एसोसिएशन ऑफ ईस्टर्न इंडिया के अध्यक्ष सुदेश पोद्दार ने कहा कि मरे हुए पशुओं के मांस की बिक्री पर मचे घमासान के बीच यहां लोग चिकन और मटन की जगह मछलियां, झींगा और यहां तक कि शाकाहारी भोजन खा रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘मोटे तौर पर इस सप्ताह हमारे सदस्यीय रेस्त्रों में मांसाहारी व्यंजनों की बिक्री में 60 फीसदी की कमी आई है लेकिन हम यह नहीं कह सकते कि लाभ में कमी आई है क्योंकि लोग चिकन और मटन के बजाय मछलियां और झींगा खा रहे हैं.’ पोद्दार ने कहा कि ग्राहक ऑर्डर करने से पहले मांस की गुणवत्ता और उसकी आपूर्ति के स्रोत के बारे में पूछ रहे हैं.

यह भी पढ़ें : यूपी के महाराजगंज में सरकारी स्कूल में पका मांस, प्रधानाध्यापक समेत दो निलंबित


इस सप्ताह पुलिस ने डंपिंग यार्ड से मरे हुए पशुओं का मांस बेचने में शामिल एक गिरोह का पर्दाफाश किया था. उन्होंने करीब 20 टन सड़ा हुआ मांस भी जब्त किया जिसकी आपूर्ति मध्य कोलकाता में एक कोल्ड भंडार से शहर भर के रेस्त्रां में की जानी थी. इस घटना के बाद रेस्त्रां मालिक उन्हें दिए जाने वाले कच्चे माल की गुणवत्ता को लेकर ज्यादा सतर्क हो गए हैं.

टिप्पणियां

VIDEO : कोलकाता में होलसेल चिकेन आउटलेट पर छापा, डीप फ़्रीज़र से निकला सड़ा माल​

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement