यह कोरोना से लड़ने का समय था और आप अंताक्षरी खेलने लगे : मोदी के मंत्री का कांग्रेस पर तंज

केंद्रीय मंत्री और राजस्थान से बीजेपी नेता गजेंद्र सिंह शेखावत ने कांग्रेस में जारी घमासान पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि गहलोत सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि यह कोरोना से लड़ने का समय था और आप अंताक्षरी खेलने लगे. यह गरीब को भोजन देने का समय था और आप इटालियन बनाना सीखने लगे

यह कोरोना से लड़ने का समय था और आप अंताक्षरी खेलने लगे : मोदी के मंत्री का कांग्रेस पर तंज

केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कांग्रेस पर निशाना साधा है

नई दिल्ली :

केंद्रीय मंत्री और राजस्थान से बीजेपी नेता गजेंद्र सिंह शेखावत ने कांग्रेस में जारी घमासान पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि गहलोत सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि यह कोरोना से लड़ने का समय था और आप अंताक्षरी खेलने लगे. यह गरीब को भोजन देने का समय था और आप इटालियन बनाना सीखने लगे. राजस्थान सतर्क है, सब देख रहा है. दरअसल दो दिन पहले  जयपुर होटल में कांग्रेस विधायकों के अंताक्षरी खेलने, योगा और हाउसी गेम खेलेने की खबरे आई थीं. केंद्रीय मंत्री शेखावत ने इसी बात को लेकर कांग्रेस को घेरा है. आपको बता दें कि विधायकों की खरीद-फरोख्त के मामले में गहलोत सरकार ने जांच के लिए एसओजी का गठन किया है. इस टीम ने गजेंद्र शेखावत को भी समन भी भेजा है. 

कांग्रेस ने कुछ ऑडियो टेप जारी किए हैं जिसमें विधायकों के खरीद-फरोख्त की कथित बातचीत का दावा किया जा रहा है. कांग्रेस के आरोप है कि ये आवाज गजेंद्र सिंह शेखावत की है.  इसी आधार पर एसओजी ने गजेंद्र सिंह शेखावत को समन भेजा है. हालांकि शेखावत ने इन आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

केंद्र में मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने लोकसभा चुनाव में अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत को हराया था. यह सीट अशोक गहलोत का गढ़ माना जाता रहा है. बेटे को जिताने के लिए अशोक गहलोत ने काफी मेहनत की थी. लेकिन गजेंद्र सिंह शेखावत ने बड़े अंतर से वैभव गहलोत को हरा दिया था. कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में अशोक गहलोत पर आरोप लगा था कि बेटे को जिताने के लिए उन्होंने बाकी सीटों पर ध्यान ही नहीं दिया.