Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

रोजगार के सवाल पर बोले पीएम मोदी- देश में उपलब्ध हैं अभूतपूर्व अवसर

पीएम मोदी ने कहा कि इस (मुद्रा) योजना के तहत देश भर में करीब 14 करोड़ ऋण दिये गये हैं. इसमें से 40 लाख ऋण महज गुजरात के युवाओं को दिया गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रोजगार के सवाल पर बोले पीएम मोदी- देश में उपलब्ध हैं अभूतपूर्व अवसर

पीएम मोदी ने देश में नौकरी के अवसर को लेकर रखी बात

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत ऋण आवंटन का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि देश में वर्तमान समय में रोजगार और व्यवसाय के अभूतपूर्व अवसर ( जो पहले न हुआ हो) उपलब्ध हैं. पीएम मोदी दिल्ली से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए हीरा तराशने और निर्यात करने वाले सूरत के एक बड़े फर्म हरि कृष्ण एक्सपोर्ट के कर्मचारियों को संबोधित कर रहे थे. पीएम मोदी ने कहा कि इस (मुद्रा) योजना के तहत देश भर में करीब 14 करोड़ ऋण दिये गये हैं. इसमें से 40 लाख ऋण महज गुजरात के युवाओं को दिया गया है. पिछले चार वर्षों में सात लाख करोड़ रुपये बतौर कर्ज इस योजना के तहत लोगों को दिया गया है. प्रधानमंत्री ने कहा कि मुद्रा के तहत जिन लोगों ने ऋण लिया, उनमें से साढ़े तीन करोड़ से ज्यादा पहली बार व्यावसाय करने वाले थे, क्योंकि उन्होंने पहली बार स्व-रोजगार का रास्ता चुना था. आज, देश में रोजगार और व्यावसाय के अभूतपूर्व अवसर उपलब्ध हैं.

यह भी पढ़ें: रोजगार के मुद्दे पर विपक्ष के आरोपों का PM मोदी ने दिया यह जवाब


गौरतलब है कि यह कोई पहली दफा नहीं है जब पीएम मोदी ने देश में रोजगार के पर्याप्त अवसर होने की बात कही हो. इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  ने विपक्ष की ओर से रोजगार के मुद्दे पर लगातार किये जा रहे सवालों का जवाब दिया था. उन्होंने कहा था कि जब भारत दुनिया की बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के बीच सबसे तेजी से विकास कर रहा है तो फिर ये कैसे कहा जा सकता है कि रोजगार के मोर्चे पर कुछ भी नहीं हो रहा है. न्यूज एजेंसी एएनआई के दिये इंटरव्यू में पीएम मोदी ने कहा था कि जब अर्थव्यवस्था बहुत तेजी से आगे बढ़ रही है, तो फिर नौकरियों क्यों नहीं बढ़ेंगी?  पीएम मोदी ने लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव के दौरान दिये अपने भाषण को दोहराते हुये कहा, 'निवेश बढ़ रहा है, सड़क निर्माण, रेल लाइन बिछाने का काम, सोलर पार्क बनाने और ट्रांसमिशन लाइन के विस्तार का काम तेजी से हो रहा है, तो फिर कैसे कहा जा सकता है कि नये रोजगार नहीं मिलेंगे.

यह भी पढ़ें: हाई स्किल परंतु अस्थायी काम ही रोज़गार का नया चेहरा होगा: मोदी

पीएम मोदी ने सवाल पूछने के अंदाज में कहा, 'जब इस समय सबसे अधिक निवेश हो रहा है तो क्या इससे निर्माण और नए रोजगार सृजन नहीं होगा? पीएम ने कहा कि साल 2014 में मोबाइल निर्माण की दो फैक्टरियां थीं और अब बढ़कर 120 हो गई हैं. अगर इलेक्ट्रानिक्स निर्माण के क्षेत्र में इस तरह का विकास हो रहा है तो क्या नई नौकरियों का सृजन नहीं हुआ होगा. उन्होंने कहा कि आज भारत नये 'स्टार्ट अप्स' का केंद्र बनता जा रहा है. उन्होंने कहा कि खाना, लॉजिस्टिक्स, ई-कॉमर्स, मोबाइल सोल्यूशन और इस तरह के कई सेक्टरों में ऐप आधारित एग्रीगेटर्स की भरमार है, क्या यह नये रोजगार का सृजन नहीं कर रहे हैं. पीएम ने कहा पर्यटन क्षेत्र भी बड़ा रोजगार पैदा करता है.

टिप्पणियां

VIDEO: तेजस्वी यादव ने पीएम मोदी से पूछे सवाल.

पिछले साल विदेशी पर्यटकों संख्या में 14 फीसदी का इजाफा हुआ है, क्या इससे नये रोजगार नहीं पैदा होंगे? इसके बाद पीएम ने कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफओ) का जिक्र करते हुये कहा कि 45 लाख नये लोगों के खाते खोले गये हैं और पिछले 9 महीने में 5.68 लाख लोग नई पेंशन स्कीम से जुड़े हैं. इससे पता चलता है कि पिछले साल 1 करोड़ से ज्यादा लोगों को रोजगार मिले हैं. पीएम ने कहा कि रोजगार को लेकर चलाया जा रहा प्रचार अब बंद होना चाहिये लोगों को अब इससे ज्यादा फर्क नहीं पड़ने वाला नहीं है.(इनपुट भाषा से) 



दिल्ली चुनाव (Elections 2020) के LIVE चुनाव परिणाम, यानी Delhi Election Results 2020 (दिल्ली इलेक्शन रिजल्ट 2020) तथा Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... कौन था औरंगजेब का भाई दारा शिकोह, जिसकी दिल्ली में कब्र खोज रही है मोदी सरकार?

Advertisement