पीएम मोदी को मिला 'सियोल शांति पुरस्कार', राशि नमामि गंगे प्रोजेक्ट को समर्पित की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दक्षिण कोरिया में अंतरराष्ट्रीय सहयोग के लिए 'सियोल शांति पुरस्कार' प्रदान किया गया.

खास बातें

  • पीएम मोदी को मिला 'सियोल पीस प्राइज'
  • दक्षिण कोरिया में सम्मानित किये गए पीएम
  • पुरस्कार राशि नमामि गंगे प्रोजेक्ट को समर्पित की
नई दिल्ली :

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दक्षिण कोरिया में अंतरराष्ट्रीय सहयोग के लिए 'सियोल शांति पुरस्कार' प्रदान किया गया. इस मौक पर संबोधन के दौरान पीएम ने कहा कि यह पुरस्कार मुझे नहीं बल्कि भारत के लोगों को मिला है. मैं उनकी तरफ से यह पुरस्कार ग्रहण करता हूं. मैं यह पुरस्कार देश की जनता को समर्पित करता हूं, जिन्होंने मुझे सेवा का मौका दिया. मुझे गर्व है कि यह पुरस्कार मुझे ऐसे समय में मिला है जब हम महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मना रहे हैं. 'सियोल शांति पुरस्कार' के लिए मुझे जो एक करोड़ 30 लाख रुपये की धनराशि मिली है, इसको मैं गंगा नदी को साफ करने वाले प्रोजेक्ट ननामि गंगे को समर्पित करता हूं. पीएम मोदी ने कहा कि आज चरमपंथ और आतंकवाद वैश्विक समस्या बन गई है. यह पूरी दुनिया की शांति और सुरक्षा के लिए सबसे बड़ा खतरा है.

दक्षिण कोरिया में बोले पीएम मोदी, भारत अगले कुछ सालों में 5 ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था बन जाएगा

पीएम ने कहा कि अब समय आ गया है कि जो लोग मानवता में विश्वास रखते हैं वे आतंकवाद से मुकाबले के लिए साथ आएं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत के विकास की कहानी न सिर्फ हमारे लिए अच्छी है, बल्कि पूरी दुनिया के लिए फायदेमंद है. उन्होंने कहा कि भारत जलवायु परिवर्तन के खिलाफ वैश्विक लड़ाई में सक्रिय भूमिका निभा रहा है. हमने संघर्ष क्षेत्रों में न केवल अपने लोगों को बल्कि विभिन्न देशों के नागरिकों को बचाने के लिए सफल ऑपरेशन चलाये हैं. आपको बता दें कि दक्षिण कोरिया के सियोल में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा कि हम आज दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था हैं. पूरी दुनिया आज भारत की तरफ उम्मीद से निगाहें लगाए देख रही है. हमारी इकोनॉमी लगातार मजबूत हुई है. पीएम मोदी ने कहा कि अगले कुछ साल में भारत 5 ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था में शामिल होने के लिए तेजी से कदम बढ़ा रहा है.

दक्षिण कोरियाः पीएम मोदी ने किया महात्मा गांधी की प्रतिमा का अनावरण, शांति पुरस्कार से होंगे सम्मानित

पीएम ने कहा कि 2014 में जब मैंने कार्यभार संभाला था तब हम आर्थिक दृष्टि से 11वें नंबर पर थे, आज छठवें पर पहुंच गए और 5 होने में देर नहीं लगेगी. उन्होंने कहा कि अगले डेढ़ दशक में भारत टॉप-थ्री में पहुंच जाएगा. पीएम मोदी ने कहा कि हमने कैशलेस इकॉनमी की तरफ मजबूती से कदम बढ़ाया है. ईज ऑफ डूइंग मामले में हमने 62 अंकों की छलांग लगाई है. दुनिया को इसका आश्चर्य हुआ था. विश्व बैंक के चेयरमैन ने इसके लिए मुझे खुद ही फोन किया था और बधाई दी थी.

VIDEO: हम दुनिया की सबसे बड़ी डिजिटल इकोनॉमी बनने की राह पर​

 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com