NDTV Khabar

TV पर शहीदों की पत्नियों के आंसू महिला प्रिंसिपल से देखा नहीं गया, मदद के लिए पापा की दी हुईं चूड़ियां बेच दी

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में 40 सीआरपीएफ जवानों की शहादत की खबर ने एक महिला प्रिंसिपल को इस कदर झकझोरा कि उन्होंने अपनी चूड़िंया तक बेच डाली.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
TV पर शहीदों की पत्नियों के आंसू महिला प्रिंसिपल से देखा नहीं गया, मदद के लिए पापा की दी हुईं चूड़ियां बेच दी

पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों के पार्थिव शरीर

नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में 40 सीआरपीएफ जवानों की शहादत की खबर ने एक महिला प्रिंसिपल को इस कदर झकझोरा कि उन्होंने अपनी चूड़िंया तक बेच डाली और उससे जो पैसे हुए वह शहीदों के परिवारों के मदद के लिए दे दान कर दी. दरअसल, एक निजी स्कूल की प्रिंसिपल किरण झागवाल ने पुलवामा आतंकी हमले में जान गंवाने वाले सीआरपीएफ जवानों के परिवार की मदद के लिए 1,38,387 रुपये प्रधानमंत्री राहत कोष में दान किया है. बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे और इस हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी. 

भारत ने कहा- पुलवामा हमले के पीछे पाक का हाथ, तो पाकिस्तान बोला- सबूत दीजिए, कार्रवाई करेंगे

किरण झागवाल ने कहा कि जब मैंने टीवी पर शहीदों की पत्नियों को रोते देखा, तो मेरे मन में ख्याल आया कि आखिर मैं उनके लिए क्या कर सकती हूं. इसलिए मैंने अपनी चूड़ियां बेच दी और उस पैसे को प्रधानमंत्री राहत कोष में दान कर दिया. ये चूड़ियां मेरे पिता जी ने उपहार में दिए थे. 


उन्होंने आगे कहा कि पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों के परिवार वालों की मदद के लिए लोगों को आगे आना चाहिए. उन्होंने लोगों से मदद करने की अपील करते हुए कहा कि हमारी आबादी 130 करोड़ है, अगर हर कोई 1 रुपये भी दान करता है तो बहुत एकत्र किया जा सकता है. 

पाकिस्तान पर बरसे कैप्टन अमरिंदर सिंह, कहा- अगर आप मसूद अज़हर को नहीं पकड़ सकते हैं तो...

टिप्पणियां

दरअसल, गुरुवार यानी 14 फरवरी को सीआरपीएफ का काफिला जम्मू से श्रीनगर जा रहा था. इस काफिले में करीब 78 गाड़ियां थीं और 2500 जवान शामिल थे. उसी दौरान बाईं ओर से ओवरटेक कर विस्फोटक से लदी एक कार आई और उसने सीआरपीएफ की बस में टक्कर मार दी. आतंकवादी ने जिस कार से टक्कर मारी थी, उसमें करीब 60 किलो विस्फोटक थे. इसकी वजह से विस्फोट इतना घातक हुआ कि इसमें 40 जवान शहीद हो गए. इस घटना पर पीएम मोदी ने सीधे तौर पर कहा है कि आतंकी बहुत बड़ी गलती कर चुके हैं और अब उन्हें इसका अंजाम भी भूगतना होगा. 

VIDEO: पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड ढेर



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement