NDTV Khabar

राहुल गांधी 4 दिसंबर को ही बन जाएंगे कांग्रेस अध्यक्ष, निर्विरोध चुने जाने के आसार

माना जा रहा है कि राहुल गांधी के खिलाफ कोई भी नेता नामांकन पत्र दाखिल नहीं करेगा, ताे 4 दिसंबर को ही उनका निर्विरोध चुना जाना तय है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राहुल गांधी 4 दिसंबर को ही बन जाएंगे कांग्रेस अध्यक्ष, निर्विरोध चुने जाने के आसार

राहुल गांधी के खिलाफ कोई भी नेता नामांकन पत्र दाखिल नहीं करेगा, ताे 4 दिसंबर को ही उनका निर्विरोध चुना जाना तय है.

नई दिल्ली: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी अब कुछ ही दिन में, संभवतः 4 दिसंबर को आधिकारिक रूप से पार्टी प्रमुख बन जाएंगे. सोमवार को पार्टी की मौजूदा अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास 10, जनपथ पर हुई कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए होने वाले चुनाव के कार्यक्रम की घोषणा कर दी गई.

कांग्रेस नेता माकन ने कहा, राहुल को अध्यक्ष बनाए जाने को लेकर कोई 'झिझक' नहीं

घोषित कार्यक्रम के अनुसार, चुनाव की अधिसूचना 1 दिसंबर को जारी होगी, और नामांकन पत्र भरने की अंतिम तारीख 4 दिसंबर (दोपहर 3 बजे तक) तय की गई है. नामांकन पत्रों की छंटनी 5 दिसंबर को की जाएगी, और वैध नामांकन पत्रों की सूची भी उसी दिन दोपहर 3:30 बजे जारी कर दी जाएगी. नामांकन पत्र वापस लेने की अंतिम तिथि 11 दिसंबर (दोपहर 3:30 बजे तक) है, और चुनाव लड़ने जा रहे प्रत्याशियों की अंतिम सूची उसी दिन 4 बजे जारी की जाएगी.
 


यदि एक से ज़्यादा वैध नामांकन दाखिल होते हैं, और चुनाव की नौबत आती है, तो मतदान 16 दिसंबर को होगा, तथा मतगणना 19 दिसंबर को करवाई जाएगी. लेकिन चूंकि माना जा रहा है कि राहुल गांधी के खिलाफ कोई भी नेता नामांकन पत्र दाखिल नहीं करेगा, सो, 4 दिसंबर को ही उनका निर्विरोध चुना जाना तय है.

गुजरात चुनाव के नतीजे जो भी हों, फायदा राहुल गांधी को ही होगा - ये हैं 5 कारण

टिप्पणियां
कार्यसमिति की बैठक में अपने उद्घाटन भाषण में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर कई मुद्दों पर हमला बोला, जिनमें संसद के शीतकालीन सत्र को टाला जाना मुख्य रहा. सोनिया गांधी ने सत्र को आगे बढ़ाए जाने को अस्वस्थ संसदीय परम्परा करार दिया.

 

VIDEO: राहुल को अध्यक्ष बनाने पर फ़ैसला संभव...


कार्यसमिति की बैठक में पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने गुजरात में विकास के अभाव की बात की, तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व बीजेपी प्रमुख अमित शाह की जोड़ी पर भ्रष्टाचार में लिप्त होने का आरोप लगाया. बैठक में पार्टी के अधिकतर सदस्यों गुजरात चुनाव को लेकर चर्चा की, तथा आशंका व्यक्त की कि मोदी-शाह की जोड़ी चुनाव जीतने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है. कांग्रेस सदस्यों का कहना था वीवीपीएटी वाली ईवीएम मशीनों से छेड़खानी नहीं की जा सके, इसके लिए पर्याप्त कदम उठाए जानिे चाहिए.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement