NDTV Khabar

राजनाथ सिंह ने कहा- आतंकवाद के लिए ऑक्सीजन का काम करते हैं जाली नोट

राजनाथ सिंह ने कहा- आतंकवाद एक ‘अभिशाप’ है और कोई भी सभ्य देश इसे स्वीकार नहीं कर सकता.

331 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
राजनाथ सिंह ने कहा- आतंकवाद के लिए ऑक्सीजन का काम करते हैं जाली नोट

राजनाथ सिंह ने कहा- आतंकवाद एक अभिशाप

खास बातें

  1. आतंकवाद देश के लिए एक अभिशाप
  2. कोई भी सभ्य देश यह बर्दाश्त नहीं कर सकता
  3. जाली नोटों से आतंकवाद को बढ़ावा मिलता है
नई दिल्ली: केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज कहा कि जाली नोट आतंकवाद के लिए ऑक्सजीन के रूप में काम करते हैं. यहां राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के नए मुख्यालय का उद्घाटन करते हुए सिंह ने कहा कि कोई भी सभ्य देश अपनी सरजमीं से आतंकवाद को फलने फूलने देना स्वीकार नहीं कर सकता है.

भारतीय सैनिक भारत-पाकिस्तान सीमा पर हर दिन पांच-छह आतंकवादी मार रहे हैं : राजनाथ सिंह

उन्होंने कहा कि आतंकवाद एक ‘अभिशाप’ है और कोई भी सभ्य देश इसे स्वीकार नहीं कर सकता. राजनाथ ने कहा, ‘‘जाली मुद्रा आतंकवाद को बढ़ाने में सहयोग करती है और उच्च गुणवत्ता वाले जाली नोट आतंकवाद के लिए ऑक्सीजन के रूप में काम करते हैं.’’

टिप्पणियां
भारत 2025-30 तक विश्व की प्रमुख तीन अर्थव्यवथाओं में होगा : राजनाथ सिंह

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement