NDTV Khabar

बाबा राम रहीम के रेप केस पर आना है फैसला, हरियाणा-पंजाब में चाक-चौबंद की गई सुरक्षा

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख बाबा राम रहीम के खिलाफ रेप केस में फैसला आने से पहले पूरे सिरसा की सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बाबा राम रहीम के रेप केस पर आना है फैसला, हरियाणा-पंजाब में चाक-चौबंद की गई सुरक्षा

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख बाबा राम रहीम पर एक साध्वी ने रेप का आरोप लगाया है.

खास बातें

  1. डेरा सच्चा सौदा प्रमुख बाबा राम रहीम के खिलाफ रेप का आरोप
  2. 25 अगस्त को रेप केस में पंचकूला कोर्ट का आना है फैसला
  3. फैसले से पहले सिरसा की सुरक्षा चुस्त कर दी गई है
नई दिल्ली:

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख बाबा गुरमीत राम रहीम के खिलाफ साध्वी से रेप केस में 25 अगस्त को कोर्ट का फैसला आने वाला है. हरियाणा व पंजाब पुलिस और प्रशासन को आशंका है कि बाबा राम रहीम के समर्थक उपद्रव कर सकते हैं. एहतियात के तौर पर प्रशासन ने पंजाब और हरियाणा के पेट्रोल पंप के मालिकों को निर्देश दिए हैं कि खुले में तेल न बेचें. किसी भी व्यक्ति को कैनी, बोतल में पेट्रोल और डीजल न दें. प्रशासन के इस फैसले का पंप मालिकों ने भी पालन करने को कहा है. वहीं पुलिस ने नाकों निगरानी बढ़ा दी है. यहां से गुजरने वाली हर गाड़ियों की जांच सख्ती से की जा रही है. सिरसा और पंचकूला में सुरक्षा के विशेष इंतजाम किए गए हैं. 

ये भी पढ़ें: डेरा सच्चा सौदा प्रमुख पर फैसले से पहले छावनी बना हरियाणा, सीमाएं की गईं सील


पंचकूला कोर्ट के पास गाड़ियों की आवाजाही बंद: बाबा राम रहीम के रेप केस पर पंचकूला कोर्ट को फैसला सुनाना है. ऐसे में पुलिस को उम्मीद है कि राम रहीम के अनुयायियों का मूवमेंट यहां बढ़ सकता है. इसी का ख्याल रखते हुए पंचकूला कोर्ट के आसपास के इलाकों में गाड़ियों की आवाजाही बंद कर दी गई है. जरूरी सामान और कोर्ट के कर्मचारियों की गाड़ियों की भी सघन तलाशी ली जा रही है.

टिप्पणियां

अर्धसैनिक बल तैनात: किसी भी संभावित उपद्रव को देखते हुए प्रशासन ने सिरसा में अर्धसैनिक बलों की 10 टुकड़ियां बुला ली हैं. अर्धसैनिक बलों को सिरसा में अलग-अलग जगहों पर तैनात कर दिया गया है. बुधवार को सिरसा के डबवाली में अर्धसैनिक बलों की टुकड़ियों ने फ्लैग मार्च निकाला है. चेक पोस्ट पर तैनात पुलिसकर्मी शैलेंदर ने बताया की दिन रात चेक पोस्ट पर पुलिस ने वाहनों का चेकिंग अभियान चला रखा है. पुलिस की तैनाती है, सुरक्षा के पुख्ता इंतेजाम किए हैं. 

पेट्रोल पंप के मैनेजर रोहताश ने बताया कि प्रशासन ने सभी पंप मालिकों को बोतल, कैनी में पेट्रोल व डीजल नही देने के आदेश दिए हैं, जिसका वे सख्ती से पालन कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि कुछ लोगों को डीजल केवल अस्पताल के लिए ही दे रहे हैं.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement