NDTV Khabar

छत्तीसगढ़ के अबूझमाड़ इलाके में नक्सली कर रहे युवक-युवतियों की भर्ती

ग्रामीणों ने अपने-अपने गांव से पांच-पांच युवक-युवतियों को चुना, पुलिस का जानकारी से इनकार

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
छत्तीसगढ़ के अबूझमाड़ इलाके में नक्सली कर रहे युवक-युवतियों की भर्ती

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. नक्सलपंथ में शामिल होने वाले लोगों के लिए उम्र का बंधन रखा गया
  2. लोगों को फोर्स की तरह ट्रेनिंग देकर युद्धकला के जौहर सिखाए जा रहे
  3. नक्सल संगठन के लिए काम कर रहे ग्रामीण, पुलिस करेगी कार्रवाई
नारायणपुर (छत्तीसगढ़):

छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले के अबूझमाड़ में नक्सलियों ने अपने संगठन का विस्तार करने के लिए गांवों से युवक-युवतियों की मांग की है. नक्सलियों की बात मानते हुए ग्रामीणों ने अपने-अपने गांव से पांच-पांच युवक-युवतियों को चुना है. आईजी विवेकानंद सिन्हा ने बताया कि पुलिस के पास ऐसी कोई जानकारी नहीं है. उनका कहना है कि वहां पर वर्तमान में जो नक्सल संगठन के लिए काम कर रहे हैं, वे भी वहीं के ग्रामीण हैं. पुलिस जल्द ही उन पर कार्रवाई करेगी.

टिप्पणियां

सूत्रों के अनुसार, अबूझमाड़ के जाटलूर, जुवाड़ा, पदमकोट, नीलांगुर, धुरबेड़ा, पांगुड, गारपा, कुतुल, परपा, कोडनार, कोडलियार, कटुलनार समेत माड़ के दो दर्जन गांवों में नक्सलपंथ में शामिल होने वाले लोगों के लिए उम्र का बंधन रखा गया है, जिसमें 14 से 18 साल के बीच के युवक और युवतियों को तरजीह देकर उन्हें अपने संगठन का हिस्सा बनाया जा रहा है. नक्सली संगठन में शामिल हुए लोगों को फोर्स की तरह ट्रेनिंग देकर उन्हें युद्धकला के जौहर सिखाए जा रहे हैं.


सूत्रों का यह भी कहना है किए इस इलाके में अबूझमाड़ के युवक-युवतियों को प्रशिक्षण देने के लिए प्रशिक्षक बुलाया गया है. पर अबूझमाड़ के युवक-युवतियों का नक्सलियों से मोह भंग हो गया और आज वे अपने गांव के विकास पर ध्यान देने की बात कर रहे हैं.
(इनपुट आईएएनएस से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement