NDTV Khabar

नितिन गडकरी का दावा, सड़क क्षेत्र में 3,000 अरब रुपये के कर्ज को एनपीए होने से बचाया

गडकरी ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘वित्त मंत्री तथा प्रधानमंत्री के के सहयोग से हमने 22 कैबिनेट निर्णय लिये और दिन-रात बैठकें की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नितिन गडकरी का दावा, सड़क क्षेत्र में 3,000 अरब रुपये के कर्ज को एनपीए होने से बचाया

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (फाइल फोटो)

मुंबई: केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने शुक्रवार को दावा किया कि सड़क क्षेत्र में सरकार के सक्रिय कदम से 3,000 अरब रुपये के कर्ज को डूबा ऋण (एनपीए) होने से बचाया गया. बैंकों के 8,000 अरब रुपये के फंसे कर्ज के समाधान के लिये जोर-शोर से उठाये जा रहे कदमों के बीच उन्होंने यह बात कही. गडकरी ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘वित्त मंत्री तथा प्रधानमंत्री के के सहयोग से हमने 22 कैबिनेट निर्णय लिये और दिन-रात बैठकें की. इसके कारण हमने बैंकों को 3,000 अरब रुपये की गैर-निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) से बचाया.’’

कोचीन शिपयार्ड की सूचीबद्धता के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में मंत्री ने कहा कि जब एनडीए मई 2014 में सत्ता में आया, बुनियादी ढांचा एक चुनौती थी, 403 सड़क परियोजनाएं अटकी हुई थी, बैंकों ने 3850 अरब रुपये का कर्ज दे रखा था और यह ऋिण गैर-निष्पादित परिसपंत्ति बनने की ओर अग्रसर था.

उन्होंने दावा किया कि लेकिन सरकार के उपायों से एक भी परियोजना अटकी हुई नहीं है. हालांकि 50,000 करोड़ रुपये मूल्य के उद्यमों को जरूर समाप्त किया गया. गडकरी ने यह भी कहा कि बड़े बंदरगाहों की कार्य क्षमता में सुधार हो रहा है और इस साल उनका लाभ 40 प्रतिशत तक उछलकर 7,000 करोड़ रुपये रहने का अनुमान है. उन्होंने कहा, ‘‘इस साल, 6,000 से 7,000 करोड़ रुपये के लाभ की उम्मीद कर रहा हूं.’’

VIDEO: बड़े बकायेदारों से सरकार करेगी वसूली

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement