Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

लोकसभा में बिल पर हो रही थी चर्चा, सपा सांसद पढ़ रहे थे अखबार तो पीठासीन अध्यक्ष ने टोका और कही ये बात

सदन में ‘भारतीय आयुर्विज्ञान परिषद (संशोधन) विधेयक 2019’ पर चर्चा के दौरान तृणमूल कांग्रेस की काकोली घोष अपनी बात रख रही थीं तो पीछे की सीट पर बैठे सांसद अखबार पढ़ रहे थे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
लोकसभा में बिल पर हो रही थी चर्चा, सपा सांसद पढ़ रहे थे अखबार तो पीठासीन अध्यक्ष ने टोका और कही ये बात
नई दिल्ली:

समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क मंगलवार को लोकसभा की कार्यवाही के दौरान अखबार पढ़ रहे थे, जिस पर पीठासीन अध्यक्ष मीनाक्षी लेखी ने उन्हें टोका और कहा कि यहां इसकी अनुमति नहीं है. दरअसल, सदन में ‘भारतीय आयुर्विज्ञान परिषद (संशोधन) विधेयक 2019' पर चर्चा के दौरान तृणमूल कांग्रेस की काकोली घोष अपनी बात रख रही थीं तो पीछे की सीट पर बैठे बर्क अखबार पढ़ रहे थे. लेखी ने कहा कि ‘बर्क साहब सदन में अखबार पढ़ने की अनुमति नहीं है.' इसके बाद बर्क ने अखबार मोड़कर रख लिया और फिर सदन की कार्यवाही आगे बढ़ी.

वहीं सोमवार को लोकसभा में ‘केंद्रीय शैक्षणिक संस्था (शिक्षकों के काडर में आरक्षण) विधेयक-2019' पर चर्चा का जवाब देते हुए मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने जब एक सदस्य को अपनी बात रखने का मौका दिया, तब अध्यक्ष ओम बिरला ने उन्हें टोकते हुए कहा कि ‘मंत्री जी आज्ञा देने का काम मेरा है, आपका नहीं है.' दरअसल, निशंक जब विधेयक पर चर्चा का जवाब दे रहे थे तब राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की सुप्रिया सुले उनसे कुछ कहने के लिए खड़ी हुईं तो मंत्री यह कहते हुए बैठ गए कि ‘आप कुछ कहना चाहती हैं, कहिए.' 

...जब लोकसभा में मंत्री ने विपक्षी सांसद को दिया बोलने का मौका तो स्पीकर बोले- आज्ञा देने का काम मेरा है, आपका नहीं


सुप्रिया के बात रखने के बाद बिरला ने कहा कि ‘मंत्री जी, आज्ञा देने का काम मेरा है, आपका नहीं है.' बिरला के इस कथन के बाद सदन में ठहाके सुने गए. विधेयक पारित होने के बाद उन्होंने शून्य काल शुरू करने का निर्देश दिया. उन्होंने सदस्यों से आग्रह किया कि आगे से शून्यकाल में बोलने के लिए अपने विषय आदि को लेकर आसन के पास नहीं आए, बल्कि महासचिव वाली मेज पर अधिकारियों को दें और इस तरह से उनका संदेश आसन तक पहुंच जाएगा. 

नए अध्यक्ष ने बदल दिया लोकसभा का तौर-तरीका, ममता बनर्जी ने भेजी मिठाई

इसके बाद भी एक सदस्य आसन के निकट पहुंच गए और इस पर अन्य सदस्यों को हंसते हुए देखा गया. बिरला ने यह भी कहा कि यह परंपरा वर्षों से रही है, इसे जाने में समय लगेगा.

(इनपुट- भाषा)

अब तीन तलाक जैसे विधेयकों पर मोदी सरकार को राज्यसभा में भी नहीं रोक पाएगा विपक्ष? 10 बड़ी बातें

टिप्पणियां

Video: लोकसभा की कार्यवाही रोकनी पड़ी



दिल्ली चुनाव (Elections 2020) के LIVE चुनाव परिणाम, यानी Delhi Election Results 2020 (दिल्ली इलेक्शन रिजल्ट 2020) तथा Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... अरविंद केजरीवाल के शपथ ग्रहण में नहीं पहुंचे PM, दिल्ली के सातों BJP सांसद भी नहीं आए

Advertisement