1 हज़ार से 50 हज़ार का सफर : सेंसेक्स ने बनाया इतिहास तो BSE ने साझा किए दिलचस्प आंकड़े

Share Market Today : जो बाइडेन के शपथग्रहण के बाद बाजार में नये राहत उपायों की उम्मीद में वैश्विक बाजारों में तेजी रही. सेंसेक्स के 50,000 अंक पर पहुंचने के बाद बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ने सेंसेक्स का अब तक का पूरा सफर आंकड़ों के सहारे साझा किया.

1 हज़ार से 50 हज़ार का सफर : सेंसेक्स ने बनाया इतिहास तो BSE ने साझा किए दिलचस्प आंकड़े

Sensex News Today : सेंसेक्स ने पहली बार छुआ 50,000 का आंकड़ा. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

खास बातें

  • सेंसेक्स ने पहली बार छुआ 50,000 का आंकड़ा
  • BSE ने साझा किया सेंसेक्स का अब तक का सफर
  • पहली बार 1990 में 1,000 के आंकड़े पर पहुंचा था सेंसेक्स
नई दिल्ली:

Sensex Today : सेंसेक्स ने गुरुवार को पहली बार 50,000 अंकों के पार पहुंचकर (sensex touches 50k mark) इतिहास रच दिया. बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE). का 30 शेयरों वाला इंडेक्स सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 50,126.73 अंक के अपने सर्वकालिक उच्चस्तर पर पहुंचा. बाद में यह 300.09 अंक या 0.60 प्रतिशत की बढ़त के साथ 50,092.21 अंक पर कारोबार कर रहा था. इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) का निफ्टी 85.40 अंक या 0.58 प्रतिशत की बढ़त के साथ 14,730.10 अंक पर पहुंच गया. इससे पहले निफ्टी भी 14,738.30 अंक के अपने सर्वकालिक उच्चस्तर तक गया. अमेरिका में जो बाइडेन की सरकार के औपचारिक रूप से सत्ता में आ जाने के बाद बाजार में यह ऐतिहासिक तेजी देखी गई है. 

बाजार के विश्लेषक मानकर चल रहे थे कि सेंसेक्स इस साल 50,000 का रिकॉर्ड तोड़ सकता है, लेकिन इतनी जल्दी इसके यह रिकॉर्ड छूने की उम्मीद किसी को नहीं थी. जो बाइडेन के शपथग्रहण के बाद बाजार में नए राहत उपायों की उम्मीद में वैश्विक बाजारों में तेजी रही. इसके अलावा, 1 फरवरी को आ रहे बाजार में अपेक्षाएं हैं. वहीं, कोविड-19 के वैक्सीनेशन के सेंटीमेंट पर भी बाजार कारोबार कर रहा है.

गुरुवार को सेंसेक्स के इस कीर्तिमान को स्थापित करने के बाद बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ने आंकड़ों में सेंसेक्स का सफर साझा किया. एक बार आंकड़ों पर नजर डालते हुए यह देख रहे हैं कि आखिर 1990 में 1,000 का आंकड़ा छूते हुए सेंसेक्स ने कैसे 21 दिसंबर, 2020 को 50,000 का आंकड़ा छुआ है.

सबसे पहले सेंसेक्स ने जुलाई, 1990 में 1,000 का आंकड़ा छुआ था. अक्टूबर, 1999 में 5,000,  फरवरी, 2006 में 10,000 का आंकड़ा छुते हुए सेंसेक्स जुलाई, 2007 में 15,000 के आंकड़े पर पहुंचा. दिसंबर, 2007 में ही सेंसेक्स ने 20,000 का आंकड़ा भी छू लिया. लेकिन 25,000 तक पहुंचने में सेंसेक्स को लगभग सात साल लग गए. सेंसेक्स ने मई, 2014 में 25,000 का आंकड़ा छुआ, फिर मार्च, 2015 में 30,000 तक पहुंचा. लगभग तीन साल बाद जनवरी, 2018 में यह इंडेक्स 35,000 के आंकड़े पर आया और फिर....

फरवरी, 2020 में सेंसेक्स 40,000 का आंकड़ा छूते हुए 4 दिसंबर, 2020 को 45,000 पर पहुंचा और महज एक साल के भीतर ही जनवरी, 2021 में 10,000 अंकों की उछाल लेते हुए 50,000 के आंकड़े पर पहुंच गया.

बता दें कि जो बाइडेन के आने के बाद से अर्थव्यवस्था में ज्यादा राहतभरे आर्थिक पैकेज की उम्मीद की जा रही है. अमेरिका की नामित वित्त मंत्री जेनेट येलेन ने अमेरिकी अर्थव्यवस्था की रक्षा के लिए पहले ही भारी प्रोत्साहन यानी स्टिमुलस पैकेज का आह्वान किया है. उन्होंने अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिये 1.9 हजार अरब डॉलर के प्रोत्साहन पैकेज का प्रस्ताव रखा है, जिसके बाद ग्लोबल बाजारों के साथ घरेलू बाजार में भी उत्साह देखा जा रहा है.


(एजेंसियों से इनपुट के साथ)

पहली बार सेंसेक्स 50000 के पार, निफ्टी में भी उछाल

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com