NDTV Khabar

बाबुल सुप्रियो के बयान पर शत्रुघ्न सिन्हा का पलटवार, बोले- कौन हैं ये, मैं नहीं जानता

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि किसान देश की रीढ़ की हड्डी है. 60 करोड़ से ज्यादा किसानों का परिवार सही मायने में देश की सबसे मजबूत कड़ी है बावजूद उनके साथ सालों से ज्यादती हो रही है. 

5.5K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
बाबुल सुप्रियो के बयान पर शत्रुघ्न सिन्हा का पलटवार, बोले- कौन हैं ये, मैं नहीं जानता

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि किसान देश की रीढ़ की हड्डी है

खास बातें

  1. बाबुल सुप्रियो के बयान पर शत्रुघ्न सिन्हा ने किया पलटवार
  2. उन्होंने बाबुल सुप्रियो को पहचानने से इंकार कर दिया
  3. शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि किसान देश की रीढ़ की हड्डी है
भोपाल: मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर जिले में बन रहे एनटीपीसी पावर प्लांट की वजह से विस्थापित किसानों और उन पर दर्ज मामलों को वापस लेने की मांग को लेकर कलेक्टर ऑफिस के बाहर धरने पर बैठे पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा के समर्थन में शत्रुघ्न सिन्हा भी पहुंच गये, जबलपुर उतरने पर जब पत्रकारों ने उनसे केन्द्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो के बयान के बारे में पूछा तो उन्होंने अपने चिर-परिचित अंदाज़ में पूछा कौन हैं ये. शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि किसान देश की रीढ़ की हड्डी है. 60 करोड़ से ज्यादा किसानों का परिवार सही मायने में देश की सबसे मजबूत कड़ी है बावजूद उनके साथ सालों से ज्यादती हो रही है. 

यह भी पढ़ें: शत्रुघ्न सिन्हा के निकले बागी स्वर, कहा- भाजपा में दबे हुए सौतेले बेटे जैसा हुआ बर्ताव

डुमना एयरपोर्ट पर मीडिया से बात करते कहा उन्होंने कहा किसानों के अधिकारों की रक्षा होनी चाहिए,क्योंकि उनकी जो मांगे है वह न्याय संगत है. इसके साथ ही शत्रुघन सिंहा ने कहा कि किसानों की जो समस्या है उसका समाधान कर उन्हें उनका हक़ दिलाने के लिए देश के पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता राष्ट्रीय मंच के तहत अन्नदाता के साथ जो संघर्ष कर रहे हैं, उसको अपना समर्थन देने आया हूं,क्योंकि केंद्र और राज्य सरकार से हमारी कोई लड़ाई नहीं है, बल्कि संघर्ष है और हम चाहते हैं कि किसानों के साथ न्याय होना चाहिए और उनका अधिकार मिलना चाहिए. 

यह भी पढ़ें: बीजेपी की जीत पर खुले दिल से शत्रुघ्न सिन्हा ने की पीएम मोदी की तारीफ, राहुल को लेकर कही ये बड़ी बात

अपनी ही पार्टी की राज्य और केंद्र सरकार के खिलाफ बोले जा रहे सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि व्यक्ति से बड़ी पार्टी होती है और पार्टी से बड़ा देश होता है. लिहाजा जो वह कर रहे है देश हित में कर रहे हैं, इसलिए इसे पार्टी विरोध से जोड़ कर न देखा जाए. कुछ दिनों पहले शत्रुघ्न सिन्हा ने ट्वीट किया था, 'सत्तारूढ़ पार्टी के लिए रिकॉर्ड ब्रेकिंग खतरनाक परिणामों के साथ ब्रेकिंग न्यूज- बीजेपी को तीन तलाक देने वाला राजस्थान पहला राज्य बन गया है. अजमेर-तलाक, अलवर-तलाक, मांडलगढ़-तलाक. हमारी पार्टी को झटका देते हुए हमारे विरोधियों ने रिकॉर्ड अंतर से चुनावों में जीत दर्ज की है.' 

यह भी पढ़ें: भाजपा के 'शत्रु' ने पीएम मोदी पर फिर कसा तंज, कहा- 'ताली कप्तान को तो गाली भी कप्तान को'

इस पर बाबुल सुप्रियो ने कहा था , 'शत्रुघ्न सिन्हा को बोलता हूं कि आपको इतनी नफरत है तो क्यों रोज आकर संसद में बैठते हैं? क्यों ऐसे हालात पैदा करते हैं कि दूसरों को बोलना पड़े-खामोश. ड्रेसिंग रूम की बात वहीं रहनी चाहिए. आप तीन तलाक दीजिए और खुद छोड़ दीजिए बीजेपी.'  

VIDEO: राष्‍ट्रीय मंच की शुरुआत पर शत्रुघ्न सिन्हा बोले, 'सच कहना बगावत है तो मैं बागी हूं'
इस पर शत्रुघ्न सिन्हा ने बाबुल सुप्रियो को पहचानने से इंकार करते हुए अपने चिरपरिचित अंदाज में एक्शन से जबाव दिया और कार में बैठकर नरसिंहपुर चले गए.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement