NDTV Khabar

यशवंत सिन्हा के बवाल के बीच शत्रुघ्न सिन्हा ने पीएम नरेंद्र मोदी को भेजा यह संदेश

शत्रुघ्न ने ट्वीट किया है कि अर्थव्यवस्था के हालात पर यशवंत सिन्हा के विचार का मैंने और दूसरे विचारवान नेताओं ने भरपूर समर्थन किया है.

782 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
यशवंत सिन्हा के बवाल के बीच शत्रुघ्न सिन्हा ने पीएम नरेंद्र मोदी को भेजा यह संदेश

शत्रुघ्न सिन्हा ने पीएम मोदी को दी यह सलाह

खास बातें

  1. शत्रुघ्न ने यशवंत सिन्हा के विचार का समर्थन किया
  2. एक बार दिखाएं वह छोटे व्यापारियों की चिंता करते हैं
  3. पीएम मोदी को सामने आकर जवाब देना चाहिए
नई दिल्ली: यशवंत सिन्हा और अरुण जेटली के बीच जुबानी जंग जारी है. पहले यशवंत सिन्हा ने लेख लिखकर और फिर मीडिया के सामने आकर देश की ख़स्ताहाल अर्थव्यवस्था के लिए जेटली को आड़े हाथों लिया. फिर जेटली ने यशवंत सिन्हा पर पलटवार किया और नाम लिए बग़ैर कहा कि वो 80 की उम्र में नौकरी ढूंढ रहे हैं. अब यशवंत सिन्हा ने एक बार फिर अरुण जेटली के इस वार पर पलटवार किया है. इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में यशवंत सिन्हा ने कहा कि अगर मैं नौकरी ढूंढ रहा होता तो जेटली यहां नहीं होते.

यशवंत सिन्हा मोदी सरकार पर फिर भड़के- 40 महीने से सरकार में हो, UPA को दोष नहीं दे सकते

इस पूरे मामले पर शत्रुघ्न सिन्हा ने पीएम मोदी को सलाह दी है. शत्रुघ्न ने ट्वीट किया है कि अर्थव्यवस्था के हालात पर यशवंत सिन्हा के विचार का मैंने और दूसरे विचारवान नेताओं ने भरपूर समर्थन किया है. हमारी पार्टी के लोग और बाहरी लोग भी उनके साथ हैं. हालांकि इस मुद्दे को यशवंत सिन्हा और सरकार या यशवंत सिन्हा और जेटली के बीच का मुद्दा बनाकर खत्म नहीं किया जाना चाहिए, जैसा कि कोशिश हो रही है. अन्यथा जगजीत सिंह के शब्दों में 'बात निकलेगी तो फिर दूर तलक जाएगी'. इस लोकतंत्र के माननीय प्रधानमंत्री के लिए ये सही वक़्त है कि वो सवाल-जवाब के लिए जनता और प्रेस के सामने आएं. उम्मीद और दुआ करता हूं कि कम से कम एक बार हमारे पीएम ये दिखाएं कि वो मिडिल क्लास, कारोबारियों और छोटे व्यापारियों की चिंता करते हैं.

किसी के कहने पर नहीं, अपनी मर्जी से लिखा पिता की राय से असहमति जताने वाला लेख : जयंत सिन्हा
  इससे पहले यशवंत सिन्हा ने अरुण जेटली पर निशाना साधते हुए कहा कि वो कह रहे हैं कि मैं निजी हमले कर रहा हूं, लेकिन ये सही नहीं है. अर्थव्यवस्था से जुड़ी कोई बात होगी तो उसके लिए वित्त मंत्री ही ज़िम्मेदार होंगे, गृह मंत्री नहीं.  सरकार स्थिति को समझने में पूरी तरह असफल है.

यशवंत सिन्हा और अरुण जेटली के झगड़े के बीच कांग्रेस का तंज- हम तो डूबेंगे सनम तुमको भी ले डूबेंगे
समस्या को सुलझाने की बजाय खुद की पीठ थपथपाने में लगी है. बेटे और केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा के जवाब पर यशवंत सिन्हा ने कहा कि मेरे बेटे जयंत सिन्हा को मेरे ही खिलाफ उतारकर सरकार मुद्दे से ध्यान भटकाने की कोशिश कर रही है. मैं भी निजी हमले कर सकता हूं, लेकिन उनके जाल में फंसना नहीं चाहता.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement