NDTV Khabar

अब शत्रुघ्न सिन्हा ने गांधी जी, नेहरू और पटेल के साथ-साथ जिन्ना को भी 'कांग्रेस परिवार' का बताया

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा, ' कांग्रेस महात्मा गांधी से लेकर सरदार पटेल, मोहम्मद अली जिन्ना से लेकर जवाहर लाल नेहरू तक एक परिवार है. यह उनकी पार्टी है जिनका देश की आजादी और विकास में योगदान रहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अब शत्रुघ्न सिन्हा ने गांधी जी, नेहरू और पटेल के साथ-साथ जिन्ना को भी 'कांग्रेस परिवार' का बताया

शत्रुघ्न सिन्हा मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में रैली को संबोधित किया.

खास बातें

  1. पटना साहिब से प्रत्याशी हैं शत्रुघ्न सिन्हा
  2. मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में दिया बयान
  3. बयानों की वजह से रहते हैं चर्चा में
नई दिल्ली :

अपने बयानों से बीजेपी के लिए परेशानी खड़ी करते रहे शत्रुघ्न सिन्हा ने ऐसा बयान दे दिया है जो चुनाव में कांग्रेस के लिए खड़ी मुश्किल कर सकता है. मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में एक सभा को संबोधित करते हुए शत्रुघ्न सिन्हा ने भारत के बंटवारे की मांग करने वाले मोहम्मद अली जिन्ना को 'कांग्रेस परिवार' का सदस्य बता डाला. हालांकि उन्होंने जिन्ना के अलावा महात्मा गांधी, सरदार पटेल और जवाहर लाल नेहरू का भी नाम लिया और कहा कि यह ऐसे लोगों की पार्टी है जिनका देश की आजादी और विकास में योगदान रहा है. शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा, ' कांग्रेस महात्मा गांधी से लेकर सरदार पटेल, मोहम्मद अली जिन्ना से लेकर जवाहर लाल नेहरू तक एक परिवार है. यह उनकी पार्टी है जिनका देश की आजादी और विकास में योगदान रहा है. इसलिए मैं इसमें आया हूं'. आपको बता दें कि शत्रुघ्न सिन्हा हाल ही में बीजेपी छोड़ कांग्रेस में शामिल हुए हैं और उनको पटना साहिब से ही लोकसभा का टिकट दिया है. सिन्हा अभी तक इसी सीट से बीजेपी के सांसद रहे हैं. लेकिन साल 2015 से उनका पार्टी के अंदर मनमुटाव शुरू हो गया था और वह हमेशा अपनी ही सरकार की नीतियों पर निशाना साधते रहे. लेकिन बाद में उन्होंने हमले और तेज कर दिया और सीधे पीएम मोदी पर सवाल दागने लगे. हालांकि इस दौरान पार्टी के नेता उन पर बयान देने से बचते रहे. लेकिन शत्रुघ्न सिन्हा ने नोटबंदी, जीएसटी और सर्जिकल स्ट्राइक पर पार्टी के रुख के खिलाफ बयानबाजी जारी रखी. 


कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने क्यों कहा- पीएम मोदी 2029 तक भी ऐसा करते रहेंगे

आखिरकार उन्होंने लोकसभा चुनाव से पहले खुद ही कांग्रेस में शामिल होने का ऐलान कर दिया और उनको पटना साहिब से टिकट दे दिया गया. बाद में उनकी पत्नी पूनम सिन्हा समाजवादी पार्टी में शामिल हो गईं और उनको महागठबंधन के प्रत्याशी के रूप में लखनऊ टिकट दिया. इस सीट पर कांग्रेस ने प्रमोद कृष्णन को टिकट दिया है लेकिन पार्टी की उस समय किरकिरी हो गई जब शत्रुघ्न सिन्हा अपनी पत्नी और सपा प्रत्याशी पूनम सिन्हा का प्रचार करने पहुंच गए. बाद में कांग्रेस प्रत्याशी ने प्रमोद कृष्णन ने कहा कि अब शत्रुघ्न सिन्हा को पार्टी निभाते हुए कांग्रेस के प्रचार के लिए प्रचार करने के लिए कहा. 

टिप्पणियां

लखनऊ के लोगों ने मुझे स्वीकारा- पूनम सिन्हा​


 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement