उत्तर प्रदेश में तीन अलग-अलग श्रमिक ट्रेनों में छह यात्रियों की मौत

कानपुर में झांसी-गोरखपुर श्रमिक ट्रेन में दो प्रवासी यात्री मृत पाए गए, बलिया में दरभंगा जा रही श्रमिक स्पेशल एक्सप्रेस ट्रेन में एक यात्री की मौत

उत्तर प्रदेश में तीन अलग-अलग श्रमिक ट्रेनों में छह यात्रियों की मौत

वाराणसी में स्टेशन पर एक यात्री का शव उतारा गया.

बलिया/कानपुर/वाराणसी:

श्रमिक ट्रेनों से यात्रा कर रहे छह यात्री बलिया, कानपुर और वाराणसी में मृत पाए गए. बलिया में मडगाव से प्रवासियों को लेकर दरभंगा (बिहार) जा रही श्रमिक स्पेशल एक्सप्रेस ट्रेन में तबीयत बिगड़ने से एक यात्री की बुधवार को मौत हो गई.

अपर पुलिस अधीक्षक संजय यादव के अनुसार मडगाव से प्रवासियों को लेकर दरभंगा (बिहार) जा रही श्रमिक स्पेशल एक्सप्रेस ट्रेन मंगलवार देर शाम बलिया पहुंची. इस ट्रेन से बीमार नेपाल के जनकपुर के थाना दुभी के रहने वाले शोभरन कुमार (28) की रेलवे के डॉक्टर ने जांच की. उसकी हालत नाजुक होने पर उसक जिला अस्पताल पहुंचाया गया, जहां बुधवार को उसकी मौत हो गई.

इसके पूर्व, सूरत हाजीपुर श्रमिक स्पेशल एक्सप्रेस ट्रेन में मंगलवार शाम एक यात्री मृत मिला था. मृतक के पास से मिले परिचय पत्र के जरिये उसकी पहचान बिहार में सारण निवासी भूषण सिंह (58) के रूप में हुई है. पुलिस ने दोनों शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है .

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इस बीच कानपुर में झांसी-गोरखपुर श्रमिक ट्रेन में दो प्रवासी यात्री मृत पाए गए. कानपुर सेंट्रल रेलवे पुलिस के थानाधिकारी राम मनोहर राय ने बताया कि मरने वालो में से एक की पहचान राम अवध चौहान (45) के रूप में हुई है जबकि दूसरे की पहचान अभी तक नहीं हो पाई है. चौहान आजमगढ. के रहने वाले थे . उन्होंने बताया कि दोनो के शव पोस्टमार्टम के लिये भेज दिये गये है तथा कोरोना संक्रमण की जांच के लिए नमूने ले लिए गए हैं.

वाराणसी से प्राप्त खबर के अनुसार श्रमिक ट्रेन में दो यात्री वाराणसी रेलवे स्टेशन पर मृत पाए गए. उत्तर पूर्वी रेलवे के प्रवक्ता अशोक कुमार ने बताया कि ट्रेन वाराणसी के महुवाडीह स्टेशन पर मुंबई के लोकमान्य तिलक टर्मिनल से चलकर सुबह आठ बज कर 21 मिनट पर पहुंची . रेलवे पुलिस को इस ट्रेन में दो यात्री मृत मिलें . इनमें से एक की पहचान जौनपुर के दशरथ प्रजापति (30) तथा दूसरे की पहचान आजमगढ. के राम रतन (63) के तौर पर हुई. दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के बाद उनके रिश्तेदारों को सौप दिया गया है.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)