NDTV Khabar

वार-पलटवार का दौर जारी, स्मृति ईरानी ने साधा राहुल गांधी पर निशाना तो कांग्रेस ने दिया ये जवाब

कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा, यदि राहुल गांधी देश के प्रधानमंत्री की आलोचना कर रहे हैं तो इसमें किसी को कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए. यह लोकतंत्र का गुण है.

1644 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
वार-पलटवार का दौर जारी, स्मृति ईरानी ने साधा राहुल गांधी पर निशाना तो कांग्रेस ने दिया ये जवाब

कांग्रेस नेता आनंद शर्मा

नई दिल्ली: अमेरिका में राहुल गांधी द्वारा पीएम मोदी और केंद्र सरकार की नीतियों पर किए गए वार के बाद केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने पलटवार किया. उन्होंने कहा कि राहुल का यह बयान कि 2012 में कांग्रेस में अहंकार आ गया था, यह बहुत बड़ी स्वीकारोक्ति है. स्मृति ने कहा कि राहुल का इसे चुनाव में पार्टी की हार से जोड़ना कांग्रेस के लिए चिंतन का विषय है, क्योंकि इससे वह कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर तंज कर रहे हैं. उन्होंने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि एक विफल वंशवादी ने अपनी विफल राजनीतिक यात्रा के बारे में अमेरिका में चर्चा की. भारत में वंशवाद को कोई समर्थन प्राप्त नहीं है.

यह भी पढ़ें: पूरा भारत ही परिवारवाद से चलता है, सिर्फ मेरे पीछे न पड़ें : राहुल गांधी

ईरानी ने कहा कि पीएम मोदी पर तंज कसना राहुल गांधी की पुरानी आदत है और जब देश के लोगों ने उनकी बातों को गंभीरता से नहीं लिया तो अंतरराष्ट्रीय मंच पर अपनी राजनीतिक पीड़ा बता रहे हैं. स्मृति ईरानी ने यह राहुल गांधी के संबोधन का हवाला देकर कहा कि राहुल ने प्रधानमंत्री मोदी की उपेक्षा की है.

यह भी पढ़ें: 2013 में मैंने मनमोहन सिंह को गले लगाकर कहा, 'कश्मीर' आपकी सबसे बड़ी अचीवमेंट : राहुल

स्मृति ईरानी ने कहा कि राहुल गांधी ने एक ऐसे मंच का चुनाव किया, जहां वह अपनी सुविधा के अनुसार अपने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी की ओलाचना कर सकें. इसके बाद कांग्रेस की ओर से आनंद शर्मा ने स्मृति ईरानी और भाजपा पर पलटवार किया. उन्होंने कहा, 'हम सरकार और सत्तारूढ़ पार्टी के इन बयानों से अचंभित है.

VIDEO : कांग्रेस ने कहा, राहुल ने नहीं की पीएम मोदी की आलोचना
आनंद शर्मा ने कहा, 'राहुल गांधी ने बीते 70 वर्षों में भारत की उपलब्धियों के बारे में बात की. हम समझते हैं कि भाजपा आखिर क्यों उनकी आलोचना कर रही है. यदि राहुल गांधी देश के प्रधानमंत्री की आलोचना कर रहे हैं तो इसमें किसी को कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए. यह लोकतंत्र का गुण है.'


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement