केरल में मानसून आने में हो सकती है चार दिन की देरी

केरल में इस वर्ष दक्षिणपश्चिम मानसून आने में चार दिन की देरी हो सकती है. भारत के मौसम विज्ञान विभाग ने शुक्रवार को यह जानकारी दी.विभाग ने बताया कि मानसून दक्षिणी राज्य में पांच जून तक आएगा.

केरल में मानसून आने में हो सकती है चार दिन की देरी

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

केरल में इस वर्ष दक्षिणपश्चिम मानसून आने में चार दिन की देरी हो सकती है. भारत के मौसम विज्ञान विभाग ने शुक्रवार को यह जानकारी दी.विभाग ने बताया कि मानसून दक्षिणी राज्य में पांच जून तक आएगा. मौसम विभाग ने बताया, ‘‘इस वर्ष केरल में मानसून सामान्य तारीख के मुकाबले कुछ विलंब से आएगा. राज्य में मानसून पांच जून तक आ सकता है.''केरल में मानसून आने के साथ देश में चार महीने के बरसात के मौसम की आधिकारिक शुरुआत हो जाती है. जून से सितंबर तक का मौसम बरसात का माना जाता है.


आमतौर पर केरल में हर साल मानसून एक जून को आता है. बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती तूफान के कारण अंडमान-निकोबार द्वीपसमूह में मानसून अपनी सामान्य तारीख 22 मई से छह दिन पहले 16 मई तक आ सकता है. पिछले वर्ष अंडमान-निकोबार में मानसून अपनी तय तारीख से दो दिन पहले 18 मई को आ गया था लेकिन गति धीमी पड़ने से केरल यह आठ जून को पहुंचा था और पूरे देश में मानसून की आमद 19 जुलाई को हुई थी. विभाग के मुताबिक इस वर्ष मानसून सामान्य रहेगा.

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com