NDTV Khabar

ममता की लोकप्रियता से भाजपा को हो रही जलन : तृणमूल

बंगाल के शिक्षा मंत्री चटर्जी ने कहा, ममता बनर्जी की लोकप्रियता और उनके आकर्षण से जलन और हीनभावना के चलते वे ऐसा कह रहे हैं.

70 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
ममता की लोकप्रियता से भाजपा को हो रही जलन : तृणमूल

पश्मिचम बंगाल की मुख्मयमंत्री ममता बनर्जी. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. पार्टी महासचिव ने कहा, केंद्रीय मंत्रियों के पास कोई काम नहीं
  2. प्रकाश जावड़ेकर ने पहले ममता पर साधा था निशाना
  3. कहा, वे पास-फेल नीति को लेकर भ्रम पैदा कर रहे हैं
कोलकाता: पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के महासचिव पार्था चटर्जी ने पार्टी अध्यक्ष और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के खिलाफ तीखी टिप्पणी करने वाली भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर जमकर निशाना साधा. बंगाल के शिक्षा मंत्री चटर्जी ने कहा, ममता बनर्जी की लोकप्रियता और उनके आकर्षण से जलन और हीनभावना के चलते वे ऐसा कह रहे हैं. वे कुछ ही समय पहले यहां आए हैं. केले की पत्तियों पर खाना खाते हैं. पांच सितारा होटलों में रात्रिभोज करते हैं. अपमानजनक टिप्पणियां करते हैं और चले जाते हैं. चटर्जी ने कहा, यहां तक कि भारत में मोदी की भी इतनी लोकप्रियता नहीं है. इसलिए वे हीनभावना से ग्रस्त हैं. 

यह भी पढ़ें : 
ममता बनर्जी का ऐलान, 9 अगस्त शुरू होगा 'बीजेपी भारत छोड़ो' आंदोलन
पश्चिम बंगाल के बशीरहाट में तनाव बरकरार, मुख्यमंत्री ने न्यायिक जांच के आदेश दिए

'केंद्र के मंत्रियों के पास कोई काम नहीं' : टीएमसी महासचिव ने कहा, चूंकि सारा काम खुद मोदी कर रहे हैं, इसलिए केंद्रीय मंत्रियों के पास कोई काम नहीं है. वे बस इधर-उधर घूम रहे हैं. वे जनता की समस्या को समझने की कोशिश नहीं कर रहे. गौरतलब है कि शनिवार को ही केंद्रीय मानव संसाधन एवं विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा था कि ममता, मोदी को सत्ता से बेदखल करने का दिवास्वप्न देख रही हैं, जो पूरा नहीं हो सकेगा.

वीडियो देखें : केंद्र सरकार पर भड़कीं ममता बनर्जी



जावडे़कर पर साधा निशाना: जावड़ेकर के आरोपों का जवाब देते हुए चटर्जी ने कहा, उन्हें इतिहास के बारे में कुछ नहीं पता. 90 के दशक में धार्मिक हिंसा के दौरान मदर टेरेसा के साथ सड़कों पर कौन दौड़ रहा था? वे सांप्रदायिकता फैला रहे हैं. आपके सहायक इस सांप्रदायिक हिंसा के जरिए बंगाल को विभाजित करना चाहते हैं. जावड़ेकर ने जो कुछ कहा वह बकवास है और उसका सच्चाई से कोई नाता नहीं है. भाजपा पर देश की शिक्षा व्यवस्था के 'भगवाकरण' का आरोप लगाते हुए चटर्जी ने केंद्र द्वारा राज्यों की सहमति लिए बगैर नीतियां थोपने की निंदा की. उन्होंने कहा, शिक्षा और हर दूसरे संस्थानों के भगवाकरण की कोशिशें की जा रही हैं। वे हर जगह अपने आदमी बिठा रहे हैं. बुरी शिक्षा देना उनकी आदत में हैं. उनसे हम और उम्मीद भी क्या कर सकते हैं. उन्होंने लोकसभा में विधेयक पेश करने से पहले हमसे संपर्क तक नहीं किया. वे पास-फेल नीति को लेकर भ्रम पैदा कर रहे हैं.  
 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
70 Shares
(यह भी पढ़ें)... नीरव मोदी के नाम रवीश कुमार का खुला खत

Advertisement