NDTV Khabar

#MeToo: विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर की बढ़ेंगी मुश्किलें, 2 और महिला पत्रकारों ने लगाया आरोप, कही यह बात....

यौन उत्पीड़न के आरोपों में घिरे केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर मंगलवार को भी निशाने पर रहे. अकबर पर दो और महिलाओं ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
#MeToo: विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर की बढ़ेंगी मुश्किलें, 2 और महिला पत्रकारों ने लगाया आरोप, कही यह बात....

केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर पर दो और महिलाओं ने लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. अकबर पर दो और महिलाओं ने लगाया आरोप
  2. करीब 16 महिलाओं ने लगाया है उनपर यौन उत्पीड़न का आरोप
  3. सोमवार को उन्होंने महिला पत्रकार प्रिया रमानी पर मानहानि का केस किया था
नई दिल्ली: यौन उत्पीड़न के आरोपों में घिरे केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर मंगलवार को भी निशाने पर रहे. अकबर पर दो और महिलाओं ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है. करीब 16 महिलाओं द्वारा यौन उत्पीड़न के आरोप लगने के बाद भी राज्य विदेश मंत्री ने मंगलवार को अन्य मंत्रियों की तरह अपना कामकाज जारी रखा. पत्रकार तुषिता पटेल ने आरोप लगाया कि 1990 की शुरुआत में कुछ काम के बहाने अकबर ने उन्हें कमरे में बुलाया और जब दरवाजा खोला तो उन्हें केवल अंदरूनी वस्त्र पहने थे.  जब वह (तुषिता) 22 वर्ष की थीं और ‘द टेलीग्राफ’ में बतौर प्रशिक्षु काम कर रहीं थीं. तुषिता ने अकबर पर उनके साथ दो बार बदसलूकी करने का आरोप लगाया है. दूसरी घटना तब हुई, जब वह हैदराबाद में ‘डेक्कन क्रॉनिकल’ में काम करती थीं. 

यह भी पढ़ें:  अकबर लिख रहे हैं नई आइन-ए-अकबरी, रिपोर्ट कर रहे हैं रवीश कुमार

तुसीना पटेल ने 1993 की एक और घटना लिखी है जो उनके साथ हैदराबाद में घटी है. उन्होंने लिखा कि काम के बहाने अकबर ने उन्हें ज़ोर से डांटा और अचानक उठ कर उसे दबोच लिया और चूम लिया. अब सवाल यह है कि क्या तुसीना पटेल चुनाव लड़ना चाहती हैं? अकबर ने अपने जवाब में कहा है कि चुनाव के पहले ये सब राजनीतिक एजेंडे के तहत हो रहा है.  ‘द क्विंट’ के लिए लिखने वाली उद्यमी स्वाती गौतम ने आरोप लगाया है कि जब वह छात्रा थीं तब कोलकाता में अकबर से उनके (अकबर के) कमरे में मिले थे और उन्होंने केवल बाथरोब पहन रखा था. वह अकबर को सेंट जेवियर्स कॉलेज के एक सामरोह के लिए आमंत्रित (बतौर अतिथि वक्ता) करने गईं थीं. 

यह भी पढ़ें: यौन उत्पीड़न के आरोप में घिरे एमजे अकबर से मिलने पहुंचे NSA अजीत डोभाल

टिप्पणियां
‘भारतीय महिला प्रेस कोर’ ने भी आज केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिख कहा कि यह बेहद निराशाजनक है कि राज्य विदेश मंत्री के खिलाफ आरोपों की लंबी सूची होने के बावजूद भी सरकार ने आधिकारिक तौर पर कोई जांच शुरू नहीं की है. बयान में अकबर का नाम लिए बिना कहा गया, ‘‘हमारा मानना है कि मंत्री के अपने पद पर बने रहने से गलत संदेश बाहर जाएगा कि सरकार इस गंभीर मुद्दे को लेकर उदासीन है.

VIDEO: प्राइम टाइम : क्या मानहानि का डर दिखा रहे हैं अकबर?
बता दें कि सोमवार को ही एमजे अकबर ने एक महिला पत्रकार प्रिया रमानी पर मानहानि का केस किया था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement