PM मोदी और CM उद्धव ठाकरे की मुलाकात से पहले बोले शिवसेना नेता संजय राउत- तूल देने की जरूरत नहीं

शुक्रवार को दिल्ली में पीएम मोदी से महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे मिलेंगे. बीजेपी-शिवसेना गठबंधन टूटने के बाद दूसरी बार दोनों नेता आमने-सामने होंगे... इन दोनों नेताओं की मुलाक़ात दोपहर 12 बजे होगी.

PM मोदी और CM उद्धव ठाकरे की मुलाकात से पहले बोले शिवसेना नेता संजय राउत- तूल देने की जरूरत नहीं

शिवसेना नेता संजय राउत (फाइल फोटो)

खास बातें

  • शुक्रवार को मोदी से मिलेंगे उद्धव ठाकरे
  • सोनिया गांधी से भी होगी उद्धव ठाकरे की मुलाकात
  • सजंय राउत ने कहा- मामले को तूल न दिया जाए
नई दिल्ली:

शुक्रवार को दिल्ली में पीएम मोदी से महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे मिलेंगे. बीजेपी-शिवसेना गठबंधन टूटने के बाद दूसरी बार दोनों नेता आमने-सामने होंगे. इन दोनों नेताओं की मुलाक़ात दोपहर 12 बजे होगी. इसके बाद आज शाम क़रीब छह बजे उद्धव ठाकरे कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलेंगे. बताया जा रहा है कि नागरिकता क़ानून और एनपीआर पर शिवसेना के अलग स्टैंड पर सोनिया और उद्धव के बीच बातचीत होगी. शिवसेना नेता संजय राउत ने गुरुवार को मराठी में एक ट्वीट किया जिसके अनुसार,"हां, मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे दिल्ली में शुक्रवार को प्रधानमंत्री से मुलाकात करेंगे, यह एक शिष्टाचार मुलाकात होगी, किसी भी बात को तूल देने की आवश्यकता नहीं है. जय महाराष्ट्र."

गौरतलब है कि हाल ही में बीजेपी और शिवसेना के बीच लगभग 2 दशक पुरानी गठबंधन  का अंत हो गया था. साथ मिलकर चुनाव लड़ने के बाद मुख्यमंत्री पद को लेकर दोनों दलों में विवाद हो गया था, जिसके बाद शिवसेना ने अपना रास्ता अलग कर लिया था. बाद में शिवसेना ने कांग्रेस और NCP के साथ मिलकर सरकार बना ली थी.

भीमा-कोरेगांव मामले के बाद शिवसेना-NCP में अब इस मुद्दे पर तकरार, शरद पवार बोले- पार्टियों में अलग राय हो सकती है लेकिन...

Newsbeep

बता दें कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) दिसंबर में पुणे हवाई अड्डे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) का स्वागत करने पहुंचे थे. ये मुख्यमंत्री बनने के बाद प्रधानमंत्री से उनकी पहली मुलाकात हुई थी. प्रधानमंत्री पुलिस बल के महानिदेशकों और इंस्पेक्टर जनरलों के राष्ट्रीय सम्मेलन में भाग लेने के लिए पुणे आए हुए थे. तीन दिवसीय इस कार्यक्रम में राज्य पुलिस बलों, केंद्रीय जांच एवं खुफिया एजेंसियों और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों के शीर्ष अधिकारी एक साथ आएंगे और आंतरिक सुरक्षा से संबंधित मुद्दों पर चर्चा हुई थी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: खबरों की खबर: महाविकास आघाड़ी बन रही महा 'मतभेद' आघाड़ी?