NDTV Khabar

राम मंदिर को लेकर अब बीजेपी के पास कोई बहाना नहीं है : उमा भारती

इससे पहले उमा भारती ने कहा, 'उद्धव ठाकरे की कोशिश की सराहना करती हूं. राम मंदिर पर भाजपा का पेटेंट नहीं है, भगवान राम सबके हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राम मंदिर को लेकर अब बीजेपी के पास कोई बहाना नहीं है : उमा भारती

केंद्रीय मंत्री उमा भारती (फाइल फोटो)

भोपाल:

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर राजनीतिक माहौल फिर गर्माया हुआ है. केंद्रीय मंत्री और अयोध्या आंदोलन के अगुआ में गिनी जाने वाली उमा भारती ने कहा है कि अब राम मंदिर का निर्माण न करने का कोई बहाना नहीं चलने वाला. मध्य प्रदेश में चुनाव प्रचार के लिए आई उमा भारती ने सोमवार को यहां संवाददाताओं द्वारा पूछे गए सवाल के जवाब में कहा, "मोहन भागवत हमारे परिवार के मुखिया हैं, हम सब उनकी बातों का अनुसरण करते हैं, लेकिन यह सत्य है कि उत्तर प्रदेश में योगी जी की सरकार है और केंद्र में मोदी जी की सरकार है, अब राम मंदिर नहीं बनाने के लिए हमारे पास कोई बहाना नहीं है." ज्ञात हो कि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सरसंघ चालक मोहन भागवत ने रविवार को कहा कि धैर्य का समय अब खत्म हुआ और अगर उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का मामला उच्चतम न्यायालय की प्राथमिकता में नहीं है तो मंदिर निर्माण कार्य के लिए कानून लाना चाहिए. मोहन भागवत के बयान के बाद उमा भारती की प्रतिक्रिया ने यह जाहिर कर दिया है कि अयोध्या में राम मंदिर का मुद्दा अब तूल पकड़ सकता है. 

केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने की उद्धव ठाकरे की तारीफ, बोलीं- राम मंदिर पर भाजपा का पेटेंट नहीं, भगवान राम सबके हैं


इससे पहले उमा भारती ने कहा, 'उद्धव ठाकरे की कोशिश की सराहना करती हूं. राम मंदिर पर भाजपा का पेटेंट नहीं है, भगवान राम सबके हैं. मैं सपा, बसपा, अकाली दल, ओवैसी और आजम खान जैसों लोगों से राम मंदिर निर्माण के लिए आगे आने की अपील करती हूं.' मोदी सरकार में मंत्री उमा भारती का यह बयान बीजेपी में अंदर ही अंदर बेचैनी पैदा कर सकता है. कुछ दिन पहले ही  बीजेपी सांसद रवीन्द्र कुशवाहा ने अगले महीने शुरू हो रहे संसद के शीतकालीन सत्र में अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिये कानून पारित हो जाने का दावा करते हुए कहा है कि इसके लिये केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने सत्र के दौरान अपने सभी सांसदों को दिल्ली से बाहर ना जाने का हुक्म दिया है.

शिवपाल यादव बोले- मस्जिद की जगह मंदिर बनाने की जिद क्यों? सरयू किनारे बनाएं मंदिर

सलेमपुर सीट से सांसद कुशवाहा ने कहा कि  आगामी 11 दिसम्बर को शुरू होने वाले संसद सत्र में राम मंदिर निर्माण का कानून पारित हो जायेगा. उन्होंने यह भी कहा कि केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने गत 16 नवम्बर को ही अपने सभी सांसदों को ‘व्हिप‘ जारी करते हुए संसद सत्र के दौरान दिल्ली से बाहर ना जाने के निर्देश दिये हैं. वहीं रविवार को विश्व हिंदू परिषद की धर्मसभा में भी ऐसे ही कुछ दावे किए हैं. 


टिप्पणियां

 

इनपुट : आईएनएस



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement