NDTV Khabar

उन्नाव रेप केस मामले पर लोकसभा में हंगामा,10 प्वाइंट में जानें किस नेता ने क्या कहा

कांग्रेस और कई अन्य विपक्षी दलों ने उन्नाव बलात्कार पीड़िता के सड़क हादसे में गंभीर रूप से घायल होने का मुद्दा सोमवार को लोकसभा में उठाया और गृह मंत्री अमित शाह के बयान की मांग करते हुए नारेबाजी की तथा सदन से वाकआउट किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उन्नाव रेप केस मामले पर लोकसभा में हंगामा,10 प्वाइंट में जानें किस नेता ने क्या कहा

लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने गृहमंत्री से जवाब मांगा

नई दिल्ली: कांग्रेस और कई अन्य विपक्षी दलों ने उन्नाव बलात्कार पीड़िता के सड़क हादसे में गंभीर रूप से घायल होने का मुद्दा सोमवार को लोकसभा में उठाया और गृह मंत्री अमित शाह के बयान की मांग करते हुए नारेबाजी की तथा सदन से वाकआउट किया. दूसरी तरफ, सरकार ने कहा कि इस मामले की सीबीआई जांच चल रही है तथा उत्तर प्रदेश सरकार भी निष्पक्ष ढंग से कार्रवाई कर रही है, लेकिन विपक्ष इस पर राजनीति कर रहा है. आपको बता दें कि पीड़िता के चाचा ने दर्ज की गई एफआईआर में आरोप लगाया है कि जेल में बंद विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के खिलाफ दर्ज की गई एफआईआर में कहा गया है कि वह जेल के अंदर से फोन करके पीड़ित परिवार को धमकाते थे. उनका आरोप है कि कुलदीप सेंगर धमकी भरे फोन कर कहते थे कि अगर जिंदा रहना चाहते हो तो अदालत में बयान बदल दो. शिकायत में आगे आरोप लगाया गया है कि कुलदीप सिंह सेंगर के लोगों ने धमकी दी थी कि अगर उन्होंने केस में समझौता नहीं किया तो सभी की हत्या कर दी जाएगी. इस मामले में लोकसभा में जमकर हंगामा हुआ है.
10 बड़ी बातें
  1. सदन की कार्यवाही आरंभ होने के साथ ही कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी अपने स्थान पर खड़े हो गए और लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से अपना विषय रखने की अनुमति मांगने लगे.  सदन की अनुमति मिलने के बाद चौधरी ने उन्नाव का मामला उठाते हुए कहा कि इस घटना ने पूरे देश को शर्मसार किया है और अब पीड़िता गंभीर रूप से घायल है तथा उसके परिवार के कुछ सदस्यों की मौत हो गई है. उन्होंने कहा कि हमारी मांग है कि पीड़िता को पूरी सुरक्षा दी जाए और अभियुक्तों के खिलाफ सख्त कार्रवाई हो. गृह मंत्री को सदन में आकर इस पर बयान देना चाहिए. 
  2. इस पर संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि विपक्ष इस मामले पर राजनीति कर रहा है. उत्तर प्रदेश की सरकार ने घटना के बाद सीबीआई जांच का आदेश दिया है और वह निष्पक्ष ढंग से काम कर रही है. इस मामले पर राजनीति नहीं होनी चाहिए.
  3. केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति और बीजेपी सांसद जगदंबिका पाल ने आरोप लगाया कि जिस ट्रक से हादसा हुआ है वो समाजवादी पार्टी के एक नेता का है, लेकिन कांग्रेस राजनीतिक फायदे के लिए राजनीति कर रही है. लोकसभा अध्यक्ष ने उपभोक्ता संरक्षण विधेयक को सदन में चर्चा और पारित कराने के लिए कार्यवाही आगे बढ़ाई जिसके बाद कांग्रेस, द्रमुक और सपा के सदस्य नारेबाजी करते हुए आसन के निकट पहुंच गए. 
  4. विपक्षी सदस्यों ने ‘उन्नाव की बेटी को इंसाफ दो', ‘गृह मंत्री जवाब दो' और ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का क्या हुआ' जैसे नारे लगाए. 
  5. तृणमूल कांग्रेस, बसपा और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के सदस्यों ने इस मामले पर सदन से वाकआउट किया. हंगामे के समय सदन में कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी मौजूद थे.  सदन में नारेबाजी जारी रहने के बीच पीठासीन सभापति मीनाक्षी लेखी ने कहा कि इस घटना में संदेहास्पद लगा तो प्रदेश की सरकार ने सीबीआई जांच का आदेश दिया है. सीबीआई जांच चल रही है. 
  6. जब कांग्रेस नेता अधरी रंजन चौधरी फिर से इस विषय को उठाने का प्रयास कर रहे थे तो लेखी ने कहा कि सीबीआई जांच चल रही है. आप (चौधरी) राजनीति कर रहे हैं. विपक्ष को सकारात्मक भूमिक निभानी चाहिए. यहां उपभोक्ताओं से जुड़ा महत्वपूर्ण विधेयक चल रहा है. 
  7. इस पर चौधरी ने कहा कि हम इस मामले पर राजनीति नहीं कर रहे हैं.  इस मामले में बड़ी साजिश लगती है.  मैं यह नहीं कहना चाहता कि इसमें राज्य सरकार या केंद्र सरकार शामिल है. हम सिर्फ यही चाहते हैं कि पीड़िता को पूरी सुरक्षा मिले, अभियुक्तों को कड़ी सजा मिले और गृह मंत्री सदन में आकर बयान दें. 
  8. इस बीच लोकसभा अध्यक्ष बिरला आसीन हुए और कहा कि सदन में पहले ही निर्णय किया जा चुका है कि राज्यों के विषय यहां नहीं उठाए जाएं. यह राज्य का विषय है. इसके बाद उन्होंने उपभोक्ता संरक्षण विधेयक पर चर्चा को आगे बढ़ाया. 
  9. इस पर कांग्रेस, द्रमुक, सपा और नेशनल कान्फ्रेंस के सदस्य सदन से वाकआउट कर गए. तृणमूल कांग्रेस के सौगत राय भी अपनी बात रखना चाह रहे थे लेकिन जब अध्यक्ष ने उन्हें इसी विषय पर बोलने की अनुमति नहीं दी तो पार्टी के सदस्यों ने भी सदन से वाकआउट किया. 
  10. गौरतलब है कि गत रविवार को हुए सड़क हादसे में उन्नाव बलात्कार मामले की पीड़िता गंभीर रूप से घायल हो गई. हादसे में पीड़िता की मौसी, चाची और ड्राइवर की मौत हो गई. पीड़ित महिला और उसके वकील को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है.  भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर मामले के मुख्य आरोपी हैं. 


(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
टिप्पणियां

Advertisement