कानपुर हत्याकांड में लूटे गए एके-47 राइफलें UP पुलिस ने की बरामद

पुलिस ने मुख्य आरोपी विकास दुबे (Vikas Dubey) और उसके साथियों द्वारा एनकाउंटर के दौरान पुलिसकर्मियों से लूटी गई एके-47 और इनसास राइफलें बरामद कर ली हैं.

लखनऊ:

कानपुर के चौबेपुर क्षेत्र में आठ पुलिस कर्मियों की हत्या और उनसे हथियार लूटने के मामले में उत्तर प्रदेश पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है. पुलिस ने मुख्य आरोपी विकास दुबे (Vikas Dubey) और उसके साथियों द्वारा एनकाउंटर के दौरान पुलिसकर्मियों से लूटी गई एके-47 और इनसास राइफलें बरामद कर ली हैं. पुलिस ने कानपुर हत्याकांड मामले में बिकरू गांव के रहने वाले एक आरोपी को सोमवार रात गिरफ्तार किया था. उसने पूछताछ में इस बात की जानकारी दी कि हथियार कहां छिपाए गए हैं.  

पुलिस ने बताया कि बिकरू गांव के रहने वाले आरोपी शशिकांत पर 50 हजार रुपये का इनाम था, उसे कल रात कानपुर से गिरफ्तार किया गया. पूछताछ के बाद उसने खुलासा किया कि पुलिस से लूटे गए हथियार विकास दुबे के घर तथा एक और आरोपी के घर में छिपाए गए थे. पुलिस ने कहा कि हमने आज सुबह छापेमारी करके पुलिसकर्मियों से लूटे गए हथियारों को बरामद कर लिया है. 

उत्तर प्रदेश पुलिस के अपर पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि इस मामले में कुल 21 आरोपियों के नाम हैं. अब तक 6 आरोपी मारे गिराए गए हैं और 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इससे पहले, उत्तर प्रदेश पुलिस ने लूट गए हथियारों को बरामद करने के लिए विकास दुबे के गांव में मुनादी सुनाई थी. पुलिस की एक टीम बिकरू गांव पहुंची थी और मुनादी कर कहा था कि जिस किसी के पास भी पुलिस वालों के हथियार हैं वो सूचित करके जमा करवा दे नहीं तो उसके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएगी. 

वीडियो: उत्तर प्रदेश में विकास दुबे के बहाने जातीय राजनीति की कोशिश