राहुल गांधी ने जम्मू-कश्मीर के हालात पर उठाए सवाल, उधर, पुलिस का दावा- 6 दिन से नहीं दागी एक भी गोली

जम्मू-कश्मीर पुलिस (Jammu Kashmir Police) ने बयान जारी कर साफ किया है कि पिछले 6 दिनों में फायरिंग की कोई भी घटना नहीं हुई है. लोगों को अफवाहों पर ध्यान नहीं देना चाहिए.

राहुल गांधी ने जम्मू-कश्मीर के हालात पर उठाए सवाल, उधर, पुलिस का दावा- 6 दिन से नहीं दागी एक भी गोली

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के हालात को लेकर जताई थी चिंता.

खास बातें

  • पिछले 6 दिनों में फ़ायरिंग की घटना नहीं हुई
  • 'लोगों को अफ़वाहों पर ध्यान नहीं देना चाहिए'
  • पुलिस की तरफ से कहा गया- राज्य में शांति बनी हुई है
नई दिल्ली:

कांग्रेस कार्यसमिति (CWC) की बैठक में कश्मीर (Kashmir) मुद्दे पर भी चर्चा हुई. कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के हालात पर 'गंभीर चिंता' जताते हुए कहा कि सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) पारदर्शिता के साथ राज्य की स्थिति से देश की जनता को अवगत कराएं. राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा कि ख़बर आ रही है कि कश्मीर में हालात बहुत ख़राब हैं. सरकार पूरी पारदर्शिता के साथ बताए कि वहां के हालात क्या हैं? उधर, जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बयान जारी कर साफ किया है कि पिछले 6 दिनों में फायरिंग की कोई भी घटना नहीं हुई है. लोगों को अफवाहों पर ध्यान नहीं देना चाहिए. पूरे राज्य में शांति बनी हुई है और कर्फ्यू में ढील दी जा रही है. श्रीनगर और बाकी शहरों में लोग ईद की खरीददारी में जुटे हुए हैं.

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने उन अंतर्राष्ट्रीय मीडिया रिपोर्ट्स का भी खंडन किया है, जिनमें घाटी में हिंसा की खबरें आ रही हैं. कश्मीर के आईजीपी एसपी पानी ने एक वीडियो बयान जारी करके बताया कि घाटी में पिछले 7 दिनों से कोई ऐसी घटना नहीं हुई है और वो अंतर्राष्ट्रीय मीडिया से अपील करते हैं कि जिम्मेदारी से खबरों को दिखाएं.

CWC की बैठक में कश्मीर मुद्दे पर चर्चा, राहुल गांधी ने कहा, वहां के हालात बहुत खराब, 10 खास बातें

मालूम हो कि कांग्रेस कार्य समिति (CWC) की बैठक में एक प्रस्ताव पारित कर राज्य के हालात खासकर मुख्यधारा के राजनीतिक दलों के नेताओं की 'गिरफ्तारी और हिरासत' को लेकर चिंता जताई गई थी. राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा कि कांग्रेस कार्य समिति की ओर से मुझे बुलाया गया, क्योंकि अगले अध्यक्ष को चुनने के लिए चल रही चर्चा के बीच कुछ खबरें आई हैं कि जम्मू-कश्मीर में चीजें गलत हो रही हैं. हिंसा और लोगों के मरने की खबरें हैं. बैठक में प्रस्तुति दी गई कि जम्मू-कश्मीर में क्या हो रहा है.' बता दें कि सरकार ने हाल ही में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के कई प्रावधान खत्म करने और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों - जम्मू-कश्मीर और लद्दाख - में बांटने का कदम उठाया है.

कश्मीरी बच्चे और महिला सुरक्षाकर्मी की हाथ मिलाते फोटो हुई वायरल, लोगों ने दिया ये रिएक्शन

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उधर, शनिवार को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने अनंतनाग में लोगों से मुलाक़ात की. उन्होंने हालात को लेकर उनसे बातचीत की. कई लोगों ने उनसे मिलकर अपनी बात रखी. इससे पहले शोपियां में भी उन्होंने लोगों से मुलाकात की थी.

VIDEO: राहुल गांधी, 'बैठक में मुझे जम्मू-कश्मीर के हालत पर चर्चा के लिए बुलाया गया था'