राम मंदिर के भूमिपूजन के लिए सौ पवित्र नदियों का जल, 2000 स्थानों की मिट्टी अयोध्या पहुंची : चंपत राय

राम जन्मभूमि ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कहा- कोरोना महामारी के कारण बहुत सीमित संख्या में गणमान्य लोगों को आमंत्रित किया गया, जो नहीं आ पाएंगे उनसे माफी माफी मांगता हूं

राम मंदिर के भूमिपूजन के लिए सौ पवित्र नदियों का जल, 2000 स्थानों की मिट्टी अयोध्या पहुंची : चंपत राय

अयोध्या के राम जन्मभूमि ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय.

नई दिल्ली:

अयोध्या (Ayodhya) के राम जन्मभूमि ट्रस्ट (Ram Janambhoomi Trust) के महासचिव चंपत राय (Champat Rai) ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) 5 अगस्त को अयोध्या आएंगे. पीएम मोदी एक संक्षिप्त पूजन के साथ राम मंदिर (Ram Mandir) के निर्माण की प्रक्रिया शुरू करेंगे. उन्होंने कहा है कि करीब 100 पवित्र नदियों का 1500 स्थानों से एकत्रित किया गया जल और 2000 स्थानों से जमा की गई मिट्टी अयोध्या पहुंच गई है. 

चंपत राय ने कहा है कि यह ऐतिहासिक अवसर है. देश की आजादी के बाद इस अवसर का आनंद अयोध्या का समाज मना रहा है. अयोध्या को सजाया जा रहा है. लोग अपने-अपने स्थानों पर भजन-पूजन और कीर्तन करेंगे, प्रसाद वितरण करेंगे और दीपोत्सव मनाएंगे. पूरे नगर में स्वागत द्वार, तोरण द्वार बनाए जा रहे हैं. 

अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन : आज से शुरू होने वाली पूजा टली, अब मंगलवार से होगी शुरुआत

चंपत राय ने देश भर के राम भक्तों से अनुरोध किया है कि वे अपने-अपने स्थानों पर ही इस मौके पर उत्सव मनाएं. भजन, पूजन, कीर्तन करें और प्रसाद वितरण करें. उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के कारण इस अवसर पर बहुत सीमित संख्या में गणमान्य लोगों को आमंत्रित किया गया है. जो नहीं आ पाएंगे उनसे माफी माफी मांगता हूं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com