हिमालय क्षेत्र में फिर से पश्चिमी विक्षोभ ने दी दस्तक, उत्तरी राज्यों में सोमवार से बारिश होने की संभावना

विभाग ने अगले दो तीन दिनों तक पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में बहुत घना कोहरा रहने की संभावना जतायी है जबकि उत्तराखंड, उत्तरी राजस्थान, उत्तरी मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल और बिहार में भी 22 जनवरी तक घना कोहरा हो सकता है. 

हिमालय क्षेत्र में फिर से पश्चिमी विक्षोभ ने दी दस्तक, उत्तरी राज्यों में सोमवार से बारिश होने की संभावना

उत्तर भारत के कई हिस्सों में सोमवार से फिर से हो सकती है बारिश.

खास बातें

  • पहाड़ी इलाकों में अगले दो दिनों में हो सकती है बर्फबारी
  • उत्तर भारत के राज्यों में हो सकती है बारिश
  • 22 जनवरी तक कई क्षेत्रों में घने कोहरे की संभावना
नई दिल्ली:

मौसम विभाग ने पश्चिमी हिमालय क्षेत्र में सोमवार को एक और पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने के पूर्वानुमान के आधार पर कहा है कि अगले दो दिनों तक उत्तर भारत के पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी और उत्तर पश्चिमी भारत के मैदानी इलाकों में बारिश होने की संभावना है. विभाग ने रविवार को मौसम के पूर्वानुमान में कहा कि 20 और 21 जनवरी को असरकारी रहने के बाद पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव तेजी से कम होने लगेगा. इस दौरान इसके असर के कारण उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में भी बारिश की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है. 

यह भी पढ़ें: दिल्ली में कोहरा, घाटी में गिरा पारा और राजस्थान में सर्दी जारी, जानिए देश भर में मौसम का हाल

Newsbeep

उल्लेखनीय है कि 15 जनवरी को हिमालय क्षेत्र में आए पश्चिमी विक्षोभ के कारण पहाड़ी क्षेत्रों में पिछले तीन दिनों से बर्फबारी और मैदानी इलाकों में 15 से 40 मिमी तक बारिश दर्ज की गयी. पश्चिमी हिमालय क्षेत्र में जनवरी में अब तक तीन पश्चिमी विक्षोभ आ चुके हैं. विभाग ने अगले दो तीन दिनों तक पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में बहुत घना कोहरा रहने की संभावना जतायी है जबकि उत्तराखंड, उत्तरी राजस्थान, उत्तरी मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल और बिहार में भी 22 जनवरी तक घना कोहरा हो सकता है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इन इलाकों के तापमान में गिरावट को देखते हुए विभाग ने पंजाब, हरियाणा और मध्य प्रदेश के कुछ इलाकों में अगले दो दिनों तक शीत दिवस (कोल्ड डे) की स्थिति रहने का अनुमान व्यक्त किया है. रविवार को सौराष्ट्र और कच्छ इलाके में कुछ स्थानों पर शीत लहर (कोल्ड वेव) की स्थिति है. इन इलाकों में सोमवार से शीत लहर से राहत मिलने की उम्मीद है. विभाग ने 20 जनवरी के बाद तापमान में बढ़ोतरी की संभावना को देखते हुए दिल्ली और आसपास के इलाकों में 21 से 23 जनवरी तक सर्दी से मामूली राहत मिलने का पूर्वानुमान व्यक्त किया है. विभाग ने 23 जनवरी से पश्चिमी सर्द हवाओं के फिर से जोर पकड़ने के कारण उत्तर और मध्य भारत के अधिकांश इलाकों में 23 और 24 जनवरी को सुबह और रात में घना कोहरा छाये रहने की संभावना व्यक्त की है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)