NDTV Khabar

IPL Finals MIvsRPS : ये 5 बातें मुंबई इंडियन्स के लिए साबित हो सकती हैं घातक!

IPL 10 के फाइनल में मुंबई इंडियन्स पर राइजिंग पुणे सुपरजायंट का पलड़ा भारी बताया जा रहा है. केवल फैन्स ही नहीं बल्कि एक्सपर्ट भी राइजिंग पुणे पर दांव लगा रहे हैं. इसके पीछे 5 ऐसे कारण हैं, जो मुंबई इंडियन्स को पहली नजर में चैंपियन बनने से रोकते हैं...

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
IPL Finals MIvsRPS : ये 5 बातें मुंबई इंडियन्स के लिए साबित हो सकती हैं घातक!

IPL 2017 : क्वालिफायर-1 में मुंबई के बल्लेबाज वाशिंगटन सुंदर के सामने असहाय थे...

खास बातें

  1. राइजिंग पुणे ने मुंबई को दोनों लीग मैचों में हरा दिया था
  2. लीग राउंड के बाद प्लेऑफ में भी पुणे ने मुंबई को हरा दिया
  3. पुणे की गेंदबाजी मुंबई के लिए बड़ी चुनौती होगी
नई दिल्ली: IPL 10 के फाइनल में मुंबई इंडियन्स पर राइजिंग पुणे सुपरजायंट का पलड़ा भारी बताया जा रहा है. केवल फैन्स ही नहीं बल्कि एक्सपर्ट भी राइजिंग पुणे पर दांव लगा रहे हैं. टीम इंडिया के महान बल्लेबाज रहे सुनील गावस्कर तक ने कहा है कि पुणे टीम मुंबई पर भारी पड़ेगी और उसके खिताब जीतने के काफी चांस हैं. यदि रिकॉर्ड और कारणों पर नजर डाली जाए, तो इन दिग्गजों की बात कहीं से भी गलत नहीं लगती. हमने कई फैक्टर पर विचार करते हुए 5 को शॉर्टलिस्ट किया और उनका निष्कर्ष राइजिंग पुणे के पक्ष में गया. मतलब 5 ऐसे कारण हैं, जो मुंबई इंडियन्स को पहली नजर में चैंपियन बनने से रोक सकते हैं...

1.छह साल से पहला स्थान अनलकी रहा! यदि पिछले छह साल के रिकॉर्ड को देखा जाए, तो पॉइंट टेबल में टॉप रहने वाली टीम चैंपियन नहीं बन पाई है. साल 2011 से लेकर 2016 तक जो भी टीम पॉइंट टेबल में पहले स्थान पर रही है, वह आईपीएल का खिताब नहीं जीत पाई है.

2. पुणे के घातक गेंदबाज! पुणे के स्पिन गेंदबाज वाशिंगटन सुंदर और तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर ने मुंबई के बल्लेबाजों को खासा परेशान किया था और दोनों ने तीन-तीन विकेट चटका दिए थे. सुंदर के आगे तो खुद कप्तान रोहित शर्मा, अंबाती रायुडू और कीरन पोलार्ड जैसे दिग्गज भी घुटने टेक बैठे थे. जयदेव उनादकट (22 विकेट), शार्दुल ठाकुर (11 विकेट) और डैनियल क्रिश्चियन (9 विकेट) फॉर्म में हैं और मुंबई को बड़ा स्कोर बनाने से रोक सकते हैं, जैसा कि उन्होंने क्वालिफायर-1 में किया था.

3. टीम रिकॉर्ड! आईपीएल 10 के लीग राउंड में रोहित शर्मा की कप्तानी वाली मुंबई इंडियन्स और स्मिथ की कप्तानी वाली राइजिंग पुणे सुपरजायंट दो बार भिड़ीं थी, जिनमें दोनों ही मैच पुणे के नाम रहे थे. फिर क्वालिफायर मुकाबले में भी मुंबई को हार का मुंह देखना पड़ा था. ऐसे में आंकड़े भी मुंबई के पक्ष में नहीं हैं.

4. धोनी का अनुभव और फॉर्म! एमएस धोनी अपना सातवां आईपीएल फाइनल खेलने जा रहे हैं. वैसे भी उनके पास न केवल आईपीएल का अनुभव है बल्कि इंटरनेशनल लेवल पर भी बड़े से बड़े मैच को निकाल लेने की महारत हासिल है. तभी तो स्मिथ हर बार उनसे सलाह लेने पहुंच जाते हैं और अब तक वह सफल भी रहे हैं. इतना ही नहीं धोनी फॉर्म में लौट चुके हैं और उन्होंने शुरुआती दौर के बाद बल्ले और विकेट के पीछे प्रभावी प्रदर्शन किया है. क्वालिफायर-1 में तो उन्होंने मुंबई इंडियन्य के जसप्रीत बुमराह जैसे प्रमुख गेंदबाजों को पांच छक्के लगाकर तहलका मचा दिया था. ऐसे मुंबई के गेंदबाजों को उनका तोड़ निकालना होगा.

5. फ्लॉप रोहित! मुंबई ने जब-जब आईपीएल जीता है, तो कप्तान रोहित शर्मा ने बल्ले से धमाल मचाया है. इस सीजन में उनका फॉर्म में न होना मुंबई की हार का सबसे बड़ा कारण बन सकता है. जब मुंबई साल 2015 में चैंपियन बनी थी, तो रोहित ने 16 मैचों में 482 रन ठोके थे, जिसमें उनका बेस्ट 98 रन नाबाद रहा था. साल 2013 में मुंबई के चैंपियन बनने के समय रोहित ने 19 मैचों में 538 रन बनाए थे, जबकि इस बार 16 मैच में 309 रन ही बना पाए हैं और उनका औसत 23.76 है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement