NDTV Khabar

Kendriya Vidyalaya: केंद्रीय विद्यालयों में खाली पड़े हैं शिक्षकों के करीब 6 हजार पद

मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक द्वारा साझा किए गए आंकड़ों के मुताबिक केंद्रीय विद्यालयों में शिक्षकों के 6 हजार के करीब पद खाली हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Kendriya Vidyalaya: केंद्रीय विद्यालयों में खाली पड़े हैं शिक्षकों के करीब 6 हजार पद

देश में कुल 1,227 केंद्रीय विद्यालय हैं, जिसमें सपोर्टिंग स्टाफ सहित 45,477 फैकल्टी मेंबर्स हैं.

खास बातें

  1. केवी में 6 हजार के करीब पद खाली हैं.
  2. ये डाटा एचआरडी मंत्री द्वारा साझा किया गया है.
  3. देश में कुल 1,227 केंद्रीय विद्यालय हैं.
नई दिल्ली:

देश भर के केंद्रीय विद्यालयों (Kendriya Vidyalaya) में शिक्षकों के 6 हजार के करीब पद खाली हैं. इसकी जानकारी मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक (HRD Ramesh Pokhriyal Nishank) ने राज्य सभा में राम नाथ ठाकुर के सवाल के जवाब में दी. राम नाथ ठाकुर ने देश में शिक्षण संस्थानों में शिक्षकों की कमी को दूर करने के सरकार के प्रयास पर सवाल किया था.

मानव संसाधन विकास मंत्री ने कहा, "वर्तमान सरकार ने केंद्रीय उच्च शिक्षा संस्थानों में शिक्षकों की भर्ती के लिए एक बड़ी पहल की है. हालांकि, समय-समय पर शिक्षकों की कमी को ध्यान में रखते हुए, समय-समय पर शिक्षकों की नियुक्ति भी की जाती है." 

रमेश पोखरियाल द्वारा साझा किए गए आंकड़ों के मुताबिक सबसे ज्यादा शिक्षकों के पद केंद्रीय विद्यालयों में खाली हैं. हालांकि सीबीएसई से जुड़ें इन स्कूलों की फैकल्टी में अभी भी कई पद खाली हैं. पोखरियाल द्वारा साझा की गई खाली पदों की संख्या का विवरण 15 नवंबर तक अपडेट किया गया है.

बता दें कि देश में कुल 1,227 केंद्रीय विद्यालय हैं, जिसमें सपोर्टिंग स्टाफ सहित 45,477 फैकल्टी मेंबर्स हैं और करीब 13,15,157 छात्र पढ़ते हैं. इसके अलावा, जवाहर नवोदय विद्यालय में 14,938 स्वीकृत शिक्षकों के पदों में से 3,000 से अधिक पद खाली हैं. नवोदय विद्यालयों में कुल रिक्तियों में से 2,877 पदों पर भर्ती चल रही है.


टिप्पणियां

अन्य खबरें
OTET Result 2019: जारी हुआ ओडिशा शिक्षक पात्रता परीक्षा का रिजल्ट, ये है डायरेक्ट लिंक
भारतीय सेना ने नर्सिंग कोर्स के लिए मांगे आवेदन, इस तरह करें अप्लाई



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement