DSSSB Recruitment: SDMC ने वापस लिया शिक्षकों की नियुक्ति रद्द करने का आदेश, अब होगी ज्वाइंनिंग

SDMC ने 14 अक्टूबर के नियुक्ति रद्द करने के आदेश को वापस ले लिया है. नियुक्ति रद्द करने के आदेश के बाद शिक्षकों की ज्वाइनिंग पर रोक लगा दी गई थी.

DSSSB Recruitment: SDMC ने वापस लिया शिक्षकों की नियुक्ति रद्द करने का आदेश, अब होगी ज्वाइंनिंग

DSSSB Recruitment 2019: कैट के आदेश के बाद 3 हजार से ज्यादा शिक्षकों का भविष्य खतरे में है.

खास बातें

  • SDMC ने वापस लिया शिक्षकों की नियुक्ति रद्द करने का आदेश.
  • नियुक्ति रद्द करने के आदेश के बाद ज्वाइनिंग पर रोक लगा दी गई थी.
  • अब शिक्षक ज्वाइनिंग कर सकते हैं.
नई दिल्ली:

कैट के आदेश के बाद रद्द की गई शिक्षक भर्ती पर दक्षिणी दिल्ली नगर निगम (SDMC) ने उम्मीदवारों को बड़ी राहत दी है. SDMC ने 14 अक्टूबर को जारी किए गए नियुक्ति रद्द करने के आदेश को वापस ले लिया है. एसडीएमसी ने 15 अक्टूबर को इसके संबंध में एक नोटिस जारी किया. अब एसडीएमसी के प्राथमिक स्कूलों में शिक्षक ज्वाइनिंग कर सकते हैं. हालांकि बाकी एमसीडी ने इस पर क्या फैसला लिया है इसको लेकर अभी कोई जानकारी नहीं है. बता दें कि हजारों शिक्षकों की मंगलवार को ज्वाइंनिंग होनी थी, लेकिन उन्हें निराश होकर खाली हाथ लौटना पड़ा था. नियुक्ति रद्द होने के विरोध में मंगलवार को सुबह से शाम तक दक्षिण दिल्ली नगर निगम के मुख्यालय के पास उम्मीदवारों ने धरना भी दिया.

d2fjoo1gSDMC द्वारा जारी किया गया नोटिस

कैट ने दिया था नियुक्ति रद्द करने का आदेश
केन्द्रीय प्रशासनिक अधिकरण के आदेश के बाद 3 हजार से ज्यादा शिक्षकों का भविष्य खतरे में है. कैट ने दिल्ली अधीनस्थ सेवा बोर्ड (डीएसएसबी) द्वारा होने वाली शिक्षक भर्ती का रिजल्ट रद्द कर दिया. जिसके बाद हजारों शिक्षकों की नियुक्ति पर रोक लगा दी गई. इन सभी शिक्षकों को नियुक्ति पत्र मिल चुके थे लेकिन मंगलवार को इन्हें ज्वाइंनिंग नहीं कराई गई. 

क्या है पूरा मामला
दरअसल, कई उम्मीदवारों ने केंद्रीय प्रशासनिक अधिकरण में डीएसएसबी शिक्षक भर्ती परीक्षा के रिजल्ट को चुनौती दी थी. उम्मीदवारों ने दावा किया था कि अलग-अलग बैच में परीक्षा होने के बाद भी कई प्रश्न पत्र हर बैच में एक जैसे आए थे. उन्होंने नार्मलाइज़ेशन की प्रक्रिया को चुनौती दी थी. भर्ती परीक्षा होने के बाद रिजल्ट जारी किया गया. उम्मीदवारों को मेडिकल और डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए बुलाया गया. भर्ती की सभी प्रक्रिया पूरी होने के बाद उम्मीदवारों को नियुक्ति पत्र दिए गए. लेकिन इसी के बाद कैट का आदेश आया और रिजल्ट को रद्द कर दिया गया. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

अन्य खबरें
विश्वविद्यालयों, महाविद्यालयों में पुरुषों के बजाए महिला शिक्षकों की संख्या कम, इसमें बिहार सबसे आगे : HRD
भिवानी में अध्यापकों की कमी के चलते छात्राओं ने स्कूल पर जड़ा ताला

रवीश कुमार का प्राइम टाइम: नियुक्ति का इंतजार कर रहे शिक्षकों का प्रदर्शन​