NDTV Khabar

Happy Holi 2017: केमिकल वाले रंगों के डर से नहीं खेलते होली, तो घर पर ऐसे बनाएं हर्बल कलर

17 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
Happy Holi 2017: केमिकल वाले रंगों के डर से नहीं खेलते होली, तो घर पर ऐसे बनाएं हर्बल कलर
नई दिल्‍ली: होली का त्योहार बिल्कुल करीब है और इस बसंती त्योहार में लोग अपने कपड़ों, बालों, त्वचा तथा रंगरूप की परवाह किए बिना रंगों से सराबोर रहना पसंद करते हैं. लेकिन रंगों के त्‍योहार पर लोग इसलिए रंग खेलने से बचते हैं कि उनकी स्‍कीन खराब हो जाएगी. बाजार में जो रंग मौजूद हैं उनमें बहुत सारे केमिकल वाले रंग है. इससे बचने के लिए आप अपना हर्बल रंग बना सकते हैं.

रंगों और खुशियों के त्योहार होली खेलने के लिए चुकंदर, मेहंदी और फूलों को अपने किचन में इकट्ठा करना शुरू कर दीजिए, ताकि आपको हानिकारक रासायनिक रंगों से होली नहीं खेलना पड़े. भारती तनेजा की कंपनी आल्प्स समूह की कार्यकारी निदेशक इशिका तनेजा ने हर्बल रंग बनाने के संबंध में ये सुझाव दिए हैं, जिनसे होली खेला जा सकता है : 

- नारंगी रंग बनाने के लिए रात भर मेहंदी की पत्तियों को पानी में डालकर छोड़ दें और सुबह उस पानी से होली खेलें. 

- गहरा गुलाबी रंग (मैजेंटा) बनाने के लिए चुकंदर के कुछ टुकड़ों को एक कप पानी में उबाल लीजिए और फिर अगले दिन इससे होली खेलें. 

- पीला रंग बनाने के लिए लाल रंग के फूलों को पानी में भिगो दे इससे पानी का रंग हल्के पीले रंग का हो जाएगा. 

टिप्पणियां
- हरा रंग बनाने के लिए पालक को पानी में भिगों दीजिए और फिर रंग हरा हो जाने पर उस पानी से होली खेलें. 

- नीला रंग बनाने के लिए ब्लूबेरी के रस का इस्तेमाल कीजिए. 
 
- अगर सूखे रंग से होली खेलना हो तो चावल के आटे में फूड कलर मिला लीजिए और इसमें दो छोटा चम्मच पानी मिलाकर गाढ़ा पेस्ट बना लें. इसे सूखने के लिए छोड़ दें और फिर इसे मिक्सर में पीस लीजिए, इससे यह पाउडर बन जाएगा और इससे होली खेलें.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement