NDTV Khabar

Gandhi Jayanti 2017: बापू के ये विचार बदल देंगे आपके जीने का तरीका

Gandhi Jayanti 2017: महात्मा गांधी सत्याग्रह और सविनय अवज्ञा आंदोलन के माध्यम से अत्याचार का विरोध करते थे. उनकी इस अवधारणा की नींव सम्पूर्ण अहिंसा के सिद्धान्त पर रखी गयी थी. उनके द्वारा दी गईं कई ऐसी सीख हैं, जिन्‍होंने लोगों के जीवन को नया आयाम दिया. क्‍या आप इनके बारे में जानते हैं. नहीं, तो आइए आपको बताते हैं.

25 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
Gandhi Jayanti 2017: बापू के ये विचार बदल देंगे आपके जीने का तरीका

Gandhi Jayanti 2017: महात्मा गांधी विश्व भर में अपने अहिंसात्मक आंदोलन के लिए जाने जाते हैं.

भारत के राष्ट्रपिता मोहनदास करमचंद गांधी के जन्मदिन 2 अक्टूबर को भारत में गांधी जयंती के रूप में मनाया जाता है. उन्हें महात्मा गांधी या बापू के नाम से भी जाना जाता है. इस दिन देश में राष्ट्रीय अवकाश रहता है. महात्मा गांधी विश्व भर में अपने अहिंसात्मक आंदोलन के लिए जाने जाते हैं. इसलिए गांधी जयंती महात्मा गांधी के प्रति वैश्विक स्तर पर सम्मान व्यक्त करने के लिए विश्व अहिंसा दिवस के रूप में मनाया जाता है.

महात्मा गांधी सत्याग्रह और सविनय अवज्ञा आंदोलन के माध्यम से अत्याचार का विरोध करते थे. उनकी इस अवधारणा की नींव सम्पूर्ण अहिंसा के सिद्धान्त पर रखी गयी थी. उनके द्वारा दी गईं कई ऐसी सीख हैं, जिन्‍होंने लोगों के जीवन को नया आयाम दिया. क्‍या आप इनके बारे में जानते हैं. नहीं, तो गांधी जयंती के मौके पर आपको बताते हैं.

खुद को खोजने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप दूसरों की सेवा में खुद को खो दे.

एक विनम्र तरीके से, आप दुनिया को हिला सकते हैं.

एक राष्ट्र की महानता और उसकी नैतिक प्रगति का मूल्यांकन उस देश के जानवरों को दशा द्वारा किया जाता है.

एक अच्‍छा इंसान हर जीवित चीज का दोस्‍त होता है.

स्वास्थ्य ही असली धन है सोने और चांदी के टुकड़े नहीं.

कमज़ोर कभी माफ नहीं कर सकते. क्षमा ताकतवर की विशेषता है.
 
एक व्‍यक्ति विचारों का उत्‍पाद है. वो वही बनता है जो सोचता है.

खुशी इस चीज पर निर्भर है कि आप क्या सोचते हैं, आप क्या कहते हैं, और आप क्या करते हैं.

आपको मानवता में विश्वास नहीं खोना चाहिए. मानवता एक सागर है, अगर महासागर की कुछ बूंदें गंदी हैं, तो समुद्र गंदा नहीं बनता.

लोगों में अच्छा देखें और उनकी मदद करें.

लाइफस्‍टाइल की और खबरों के लिए क्लिक करें




Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement