World Milk Day 2020: आज है वर्ल्ड मिल्क डे, जान‍िए इसके बारे में ये जरूरी बातें

World Milk Day: इस साल, वर्ल्ड मिल्ड डे की पहल को 20 साल पूरे हो गए हैं. इस वजह से इस साल की थीम को 'वर्ल्ड मिल्क डे की 20 वीं वर्षगांठ' कहा जा रहा है.

World Milk Day 2020: आज है वर्ल्ड मिल्क डे, जान‍िए इसके बारे में ये जरूरी बातें

World Milk Day 2020 Image: हर साल 1 जून को वर्ल्ड मिल्क डे मनाया जाता है.

नई दिल्ली:

हर साल 1 जून को विश्व दूग्ध दिवस यानी कि वर्ल्ड मिल्क डे (World Milk Day 2020) मनाया जाता है. दूध (Milk) के वैश्विक महत्व को उजागर करने के लिए संयुक्त राष्ट्र (United Nations) के खाद्य और कृषि संगठन द्वारा सबसे पहले इस दिन की शुरुआत की गई थी. इस पहल को शुरू हुए 20 साल हो गए हैं और 1 जून को वर्ल्ड मिल्क डे, दुनियाभर में, हमारे आहार में दूध के सेवन के महत्व को चिह्नित करने के दिन के रूप में मनाया जाता है. 

विश्व दुग्ध दिवस 2020 की थीम (World Milk Day 2020 Theme)
इस साल, वर्ल्ड मिल्क डे की पहल को 20 साल पूरे हो गए हैं. इस वजह से इस साल की थीम को 'वर्ल्ड मिल्क डे की 20वीं वर्षगांठ' कहा जा रहा है. वहीं COVID-19 महामारी के कारण, समिति द्वारा कोई बड़ा कार्यक्रम आयोजित नहीं किया गया है, लेकिन ग्लोबल डेयरी प्लेटफ़ॉर्म प्रतिभागियों से डेयरी के लाभों के बारे में बात करने के लिए कहा गया है. साथ ही दूध और डेयरी उत्पादों तक दुनिया के कई हिस्सों में पहुंचने में समस्याओं को उजागर करने पर बात करने के लिए कहा गया है. 

विश्व दुग्ध दिवस का महत्व (World Milk Day Importance)
विश्व दुग्ध दिवस विशेष रूप से भारत में बहुत ही उत्साह के साथ मनाजा जाता है. भारत में बहुत से लोग दूध और डेयरी उत्पादन से जुड़े हुए हैं और आज का दिन उन्हें दूध और डेयरी उत्पादन के बारे में खुलकर बात करने का मौका देता है. यह दिन स्वास्थ्य, पोषण और प्रभावशीलता से संबंधित डेयरी उत्पादों के लाभों के बारे में बात करने के लिए प्रोत्साहित करता है.

कैसे मनाएं विश्व दुग्ध दिवस (How to Celebrate World Milk Day)
पिछले साल वर्ल्ड मिल्क डे की थीम भारत में ''दूध पीएं: आज और रोज'' थी. हर साल अलग थीम देने का उद्देशय यही होता है कि दूध और डेयरी उत्पादों को लेकर लोगों के बीच जागरुकता बढ़ाई जाए. बहुत सारे एनजीओ और अन्य संगठन बढ़-चढ़ कर विश्व दुग्ध दिवस के कार्यक्रमों को आयोजित करते हैं और मुफ्त में वंचित बच्चों को दूध के पैकेट बांटते हैं. कई संगठन इस मौके पर नई-नई पॉलिसी भी जारी करते हैं ताकि हर उम्र के बच्चे तक दूध पहुंचाया जा सके.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com