NDTV Khabar

मां मेनका से उलट मुस्लिमों से बोले वरुण गांधी: वोट नहीं दोगे तब भी मुझसे काम ले लेना, कोई दिक्कत नहीं

भारतीय जनता पार्टी के फायरब्रांड नेता और उत्तर प्रदेश के पीलीभीत से उम्मीदवार वरुण गांधी ने मुस्लिम मतदाताओं से वोट करने की अपील की है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मां मेनका से उलट मुस्लिमों से बोले वरुण गांधी: वोट नहीं दोगे तब भी मुझसे काम ले लेना, कोई दिक्कत नहीं

वरुण गांधी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

भारतीय जनता पार्टी के फायरब्रांड नेता और उत्तर प्रदेश के पीलीभीत से उम्मीदवार वरुण गांधी ने मुस्लिम मतदाताओं से वोट करने की अपील की है. वरुण गांधी ने एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि अगर मुस्लिम मतदाता उन्हें वोट करते हैं तो उन्हें बहुत अच्छा लेगगा. अगर उन्हें वोट नहीं भी करते हैं तो मुस्लिम समुदाय के लोग उनके पास काम मांगने जा सकते हैं, उन्हें इस बात में कोई दिक्कत नहीं है. बता दें कि वरुण गांधी यूपी के सुल्तानपुर से मौजूदा सांसद हैं और अब इस सीट पर उनकी मां मेनका गांधी चुनाव लड़ रही हैं. यही वजह है कि वरुण गांधी अपनी मां की सीट पीलीभीत से चुनाव लड़ रहे हैं. 

आखिर क्यों मेनका गांधी ने बेटे वरुण गांधी के लिए छोड़ी पीलीभीत की सीट? जानें सियासी मायने

वरुण गांधी ने चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि 'बस मैं एक चीज मुस्लिम भाई को बोलना चाहता हूं कि अगर आपने मुझे वोट दिया तो मुझे बहुत अच्छा लगेगा अगर आपने मुझे वोट नहीं दिया, कोई बात नहीं, तब भी मुझसे काम ले लेना. कोई दिक्कत की बात नहीं.' 


उन्होंने आगे कहा कि 'मगर मेरी चाय में थोड़ी आपकी चीनी भी पड़ जाए तो मेरी चाय और मीठी हो जाएगी. गलत तो नहीं बोला मैंने कुछ. क्या कुछ मुस्लिम चीनी पड़ने वाली है मेरी चाय में. ऐसे मैं एक बात कहता हूं मैं दुनिया को हिंदू-मुस्लिम के रूप में नहीं देखता. मैं दुनिया को दो ही तरह से देखता हूं अपने और पराये.' बता दें कि वरुण गांधी का यह बयान उनकी मां मेनका गांधी के बयान से ठीक उलट है. 

मुस्लिमों पर विवादित बयान देकर फंसीं मेनका गांधी, कारण बताओ नोटिस जारी, 3 दिन में देना होगा जवाब

दरअसल, मेनका गांधी ने मुस्लिम मतदाताओं से कहा था कि वे आगामी लोकसभा चुनाव में उनके पक्ष में मतदान करें क्योंकि मुसलमानों को चुनाव के बाद उनकी जरूरत पड़ेगी. मेनका ने मुस्लिम बहुल क्षेत्र तूराबखानी में आयोजित एक चुनावी सभा में कहा कि मैं लोगों के प्यार और सहयोग से जीत रही हूं लेकिन अगर मेरी यह जीत मुसलमानों के बिना होगी तो मुझे बहुत अच्छा नहीं लगेगा. बीजेपी नेता ने कहा कि इतना मैं बता देती हूं कि फिर दिल खट्टा हो जाता है. फिर जब मुसलमान आता है काम के लिये, फिर मै सोचती हूं कि नहीं रहने ही दो क्या फर्क पड़ता है. आखिर नौकरी भी तो एक सौदेबाजी ही होती है, बात सही है या नहीं?''

साल 2009 में बीजेपी की टिकट पर वरुण गांधी ने अपनी मां की जगह पर पीलीभीत से चुनाव लड़ा था, जिसमें उन्होंने जीत दर्ज की थी. 2009 में ही वरुण गांधी विवादित बयान देकर बीजेपी के फायर ब्रांड नेता के तौर पर उभरे थे. वहीं, 2014 में वरुण गांधी को बीजेपी ने सुल्तानपुर से टिकट दिया था, जिसमें वरुण गांधी ने फिर जीत दर्ज की. 

टिप्पणियां

मेनका गांधी ने मुसलमानों पर दिया ये बड़ा बयान तो बॉलीवुड एक्टर बोले- डेमोक्रेसी है या गुंडागर्दी?

उत्तर प्रदेश में 80 सीटें, 7 चरणों में मतदान
11 अप्रैल: गौतमबुद्ध नगर, कैराना, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, मेरठ, बागपत, गाजियाबाद, सहारनपुर
18 अप्रैल: अलीगढ़, अमरोहा, बुलंदशहर, हाथरस, मथुरा, आगरा, फतेहपुर सीकरी, नगीना
23 अप्रैल: मुरादाबाद, रामपुर, संभल, फिरोजाबाद, मैनपुरी, एटा, बदायूं, आंवला, बरेली, पीलीभीत
29 अप्रैल: शाहजहांपुर, खेड़ी़, हरदोई, मिश्रिख, उन्नाव, फर्रुखाबाद, इटावा, कनौज, कानपुर, अकबरपुर, जालौन, झांसी, हमीरपुर
6 मई: फिरोजाबाद, धौरहरा, सीतापुर, माेहनलालगंज, लखनऊ, रायबरेली, अमेठी, बांदा, फतेहपुर, कौशांबी, बाराबंकी, बहराइच, कैसरगंज, गोंडा
12 मई: सुल्तानपुर, प्रतापगढ़, फूलपुर, प्रयागराज, अंबेडकर नगर, श्रावस्ती, डुमरियागंज, बस्ती, संत कबीर नगर, लालगंज, आजमगढ़, जौनपुर, मछलीशहर, भदोही
19 मई: महाराजगंज, गोरखपुर, कुशीनगर, देवरिया, बांसगांव, घोसी, सालेमपुर, बलिया, गाजीपुर, चंदौली, वाराणसी, मिर्जापुर, रॉबर्ट्सगंज



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement