राहुल गांधी ने किया दुनिया की सबसे बड़ी न्यूनतम आय योजना का वादा, गरीबों को मिलेंगे सालाना 72 हजार रुपये

लोकसभा चुनाव 2019 से ठीक पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बड़ा चुनावी वादा किया है. चुनावी जंग में बाजी अपने नाम करने के लिए राहुल गांधी ने न्यूनतम आय गारंटी योजना (The minimum income guarantee scheme) का वादा किया.

खास बातें

  • राहुल गांधी ने न्यूनतम आय गारंटी योजना का वादा किया.
  • उन्होंने कहा कि 20 फीसदी गरीब परिवारों को मिलेंगे सालाना 72 हजार रुपये.
  • इससे करीब 25 करोड़ लोगों को फायदा मिलेगा.
नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव 2019 से ठीक पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बड़ा चुनावी वादा किया है. चुनावी जंग में बाजी अपने नाम करने के लिए राहुल गांधी ने दुनिया की सबसे बड़ी न्यूनतम आय गारंटी योजना (The minimum income guarantee scheme) का वादा किया और कहा कि अगर उनकी सरकार सत्ता में आती है तो गरीब परिवारों को सालाना 72 हजार रुपये मिलेंगे. राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव के मद्देनजर न्यूनतम आय गारंटी योजना का वादा किया. राहुल गांधी ने कहा कि पांच साल तक मोदी सरकार में गरीब दुखी रहे, अब हम उन्हें न्याय देंगे. राहुल गांधी ने कहा कि हमने मनरेगा कमिट किया था और अब आय गारंटी देकर दिखा देंगे. हम गरीबी मिटा देंगे. हमारा कहना है कि अगर आप काम कर रहे हो तो महीने में 12 रुपए से आय कम से कम होनी चाहिए.

देहरादून रैली में बोले राहुल गांधी- यूपीए सत्ता में आई तो शुरू करेंगे न्यूनतम आय गारंटी योजना

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव से पहले सोमवार को बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि उनकी पार्टी की सरकार बनने पर देश के हर गरीब परिवार को सालाना 72 हजार रुपये दिए जायंगे. कांग्रेस की कार्य समिति की बैठक के बाद गांधी ने संवाददाताओं से कहा, '' पिछले पांच वर्षों में देश की जनता को बहुत मुश्किलें सहनी पड़ी हैं. हमने निर्णय लिया और हम हिंदुस्तान के लोगों को न्याय देने जा रहे हैं. यह न्याय न्यूनतम आय गारंटी है. ऐसी योजना दुनिया में कहीं नहीं है. 

राहुल गांधी ने कहा कि कहा, '' हम 12000 रुपये महीने की आय वाले परिवारों को न्यूनतम आय गारंटी देंगे. कांग्रेस गारंटी देती है कि वह देश में 20 फीसदी सबसे गरीब परिवारों में से प्रत्येक को हर साल 72000 रुपये देगी. यह पैसा उनके बैंक खाते में सीधा डाल दिया जाएगा.'' 

राहुल गांधी ने कहा, ''अगर मोदी जी सबसे अमीर लोगों को पैसा दे सकते हैं तो कांग्रेस भी सबसे गरीब लोगों को पैसा देगी.' इसे दुनिया की सबसे बड़ी न्यूनतम आय योजना करार देते हुए उन्होंने कहा कि यह गरीबी पर आखिरी हमला है। यह योजना चरणबद्ध तरीके से चलाई जाएगी. ‘‘यह बहुत ही प्रभावशाली और सोची समझी योजना है. हमने योजना पर कई अर्थशास्त्रियों से विचार विमर्श किया है.' गांधी ने कहा कि पूरा आकलन कर लिया गया. सब कुछ तय कर लिया गया. उन्होंने कहा कि इससे पांच करोड़ परिवार यानी 25 करोड़ लोगों को फायदा होगा.

राहुल ने कहा कि हिंदुस्तान में अगर मिनिमन इनकम से कम आमदनी है तो यह आय बढ़ाने की कोशिश होगी. जिससे गरीबी से निकाला जा सकता है. यह सेकेंड फेज में 25 करोड़ लोगों को गरीबी से निकाल देगी. इस योजना को हम आगे लाकर दिखाएंगे. इस देश का झंडा है और प्रधानमंत्री की पॉलिटिक्स से दो हिंदुस्तानी झंडा है... एक अनिल अंबानी झंडा और दूसरा गरीबी के लिए. 21वीं सदी में हिंदुस्तान में इस देश में गरीबी को हटाना है. यह स्कीम नहीं है यह अब गरीबी पर आखिरी पड़ाव है. हम दो हिंदुस्तान नहीं बनने देंगे, यह अमीरों और गरीबों दोनों का ही देश होगा. मैं महात्मा नहीं बनना चाहता मैं दो हिंदुस्तान नहीं बनने दूगा. गरीबों को भी इज्जत दिलाना चाहता हूं. 

राहुल गांधी के वादे की अहम बातें:
72 हजार रुपये सालाना इनकम
20 फीसदी गरीबों को आय गारंटी का लाभ
5 करोड़ परिवारों को मिलेगा लाभ
25 करोड़ लोगों को मिलेगा योजना का लाभ

क्या है न्यूनतम आमदनी गारंटी योजना
इस योजना में प्रावधान है कि हर नागरिक को सरकार हर महीने एक निश्चित रकम देगी. यह रकम कितनी हो यह गरीबी रेखा के मानक से तय किया जा सकता है. राहुल गांधी ने जिस न्यूनतम आमदनी गारंटी योजना का जिक्र किया है, उसमें लोगों को सरकार न्यूनतम आय गारंटी के रूप में देगी. इसके तहत सरकार एक निश्चित रकम तय करेगी और फिर एक मानत स्थापित कर इसका वितरण होगा. 

VIDEO: राहुल गांधी ने किया न्यूनतम आय गारंटी का वादा

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com