NDTV Khabar

नाथूराम गोडसे पर अब इस बीजेपी सांसद ने दिया विवादित बयान, गोडसे और कसाब की तुलना राजीव गांधी से की

लोकसभा चुनाव 2019: भोपाल से बीजेपी उम्मीदवार प्रज्ञा ठाकुर के नाथूराम गोडसे पर दिए बयान के बाद सियासी गलियारों में हंगामा जारी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नाथूराम गोडसे पर अब इस बीजेपी सांसद ने दिया विवादित बयान, गोडसे और कसाब की तुलना राजीव गांधी से की

खास बातें

  1. बीजेपी सांसद नलिन कुमार कटील ने दिया विवादित बयान
  2. कटील ने राजीव गांधी की तुलना गोडसे और कसाब से की
  3. 'गोडसे ने एक को मारा, कसाब ने 72 को मारा, राजीव गांधी ने 17 हजार को मारा'
नई दिल्ली:

भोपाल से बीजेपी उम्मीदवार प्रज्ञा ठाकुर (Pragya Singh Thakur) के नाथूराम गोडसे पर दिए बयान के बाद सियासी गलियारों में हंगामा जारी है. अब कर्नाटक बीजेपी के सांसद नलिन कुमार कटील ने गोडसे पर विवादित बयान दिया है और इस मामले में उन्होंने पूर्व पीएम राजीव गांधी (Rajiv Gandhi) का नाम भी लिया. नलिन ने गोडसे की तुलना राजीव गांधी से कर दी. नलिन ने गुरुवार को कहा, 'गोडसे ने एक को मारा, कसाब ने 72 को मारा, राजीव गांधी ने 17 हजार को मारा. अब आप खुद तय कर लो कि कौन ज्यादा क्रूर है.' नलिन कटील बीजेपी से 2 बार सांसद रहे हैं और दक्षिण कन्नड़ ने चुनावी ताल ठोंक रहे हैं. इससे पहले पीएम मोदी भी राजीव गांधी पर लगातार हमले करते रहे हैं. उन्होंने कहा था, 'पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने परिवार सहित युद्धपोत आईएनएस विराट का इस्तेमाल 30 साल पहले छुट्टी मनाने के लिए किया था.' इससे पहले पीएम मोदी ने राजीव गांधी को भ्रष्टाचारी नंबर वन भी कहा था.  

ये भी पढ़ें: देश की जनता से माफी मांगती हूं, मेरा बयान गलत, मैं राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी का बहुत सम्मान करती हूं : प्रज्ञा ठाकुर


टिप्पणियां

बता दें कि नाथूराम गोडसे पर प्रज्ञा की टिप्पणी के बाद से सियासी बयानबाजी का दौर शुरू हो गया है. दरअसल लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) में चुनाव प्रचार के दौरान साध्वी प्रज्ञा ठाकुर से NDTV के सहयोगी ज़फर मुल्तानी ने महात्मा गांधी की हत्या करने वाले 'नाथूराम गोडसे' को लेकर एक सवाल पूछा था, जिसपर साध्वी ने विवादित बयान दिया. साध्वी ने कहा था, 'नाथूराम गोडसे देश भक्त थे, हैं और रहेंगे. उनको आतंकवादी कहने वाले लोग खुद के गिरेबान में झांक कर देखें, ऐसा बोलने वालों को इस चुनाव में जवाब दे दिया जाएगा.' साध्वी के इस बयान पर सियासी गलियारों में हलचल मच गई थी और विपक्ष ने बीजेपी पर निशाना साधा था.  हालांकि नाथूराम गोडसे वाले बयान पर बीजेपी प्रज्ञा ठाकुर से सहमत नहीं है. प्रज्ञा ने प्रदेश अध्यक्ष से माफी मांगी और उन्होंने अपना बयान वापस ले लिया.

1984 में सिखों के खिलाफ हिंसा पर बयान देकर फंसे कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा?​    



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement