राबड़ी देवी का सरकार पर हमला, बोलीं- चूहा-बिल्ली बनकर बिल में घुसकर बैठे हैं ये लोग

बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री, लालू प्रसाद यादव की पत्नी व राजद नेता राबड़ी देवी अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर काफी एक्टिव हैं.

राबड़ी देवी का सरकार पर हमला, बोलीं- चूहा-बिल्ली बनकर बिल में घुसकर बैठे हैं ये लोग

राबड़ी देवी- (फाइल फोटो)

खास बातें

  • राबड़ी देवी का ट्वीट
  • सरकार पर किया हमला
  • बिना नाम लिए कसा तंज
नई दिल्ली:

बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री, लालू प्रसाद यादव की पत्नी व राजद नेता राबड़ी देवी अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर काफी एक्टिव हैं. रोजाना राज्य व केंद्र सरकार पर ट्वीट करके हमला करने से बिल्कुल नहीं चूकतीं. सबसे अहम बात यह है कि राबड़ी देवी अपनी बिहारी भाषा में ही ट्वीट करना पसंद करती हैं. उन्होंने गुरुवार को एक बार फिर ट्वीट करते हुए बिना किसी राजनेता का नाम लेते हुए सरकार पर बड़ा हमला बोला है. राबड़ी देवी ने दो ट्वीट किए हैं, जिसमें उन्होंने एक कहावत का यूज किया है. इसके अलावा यह भी कहा कि ये लोग कोई काम नहीं करते, सिर्फ रसमलाई में मलाई मिलाकर खाने के जुगाड़ में लगे रहते हैं. अबकी बार जनता इनकी रसमलाई खाना छुड़ा देगी.

बंगाल में चुनाव प्रचार बैन पर तेजस्वी यादव बोले- BJP सेल की तरह काम कर रहा है चुनाव आयोग

राबड़ी देवी ने ट्वीट किया, ''एगो कहावत बा.. ‘आपन कारज ना होत बा लेले फिरे समाज, चुहा बिल में समात बा पुंछ बान्हियो छाज' कहे के मतलब ई बा की ई लोग कौनो काम नईखे करत खाली रसमलाई में मलाई मिला के खाए के जुगार में लागल बा। अबरी बार जनता एकर रसमलाई खाईल छुड़ा दिहि.'' इसके अलावा भी राबड़ी देवी एक और ट्वीट किया. जिसमें उन्होंने लालू यादव को शेर बनके दहाड़ने को बतलाया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बंगाल में EC के फैसले पर एकजुट विपक्ष, ममता ने कांग्रेस, मायावती और अखिलेश को कहा 'शुक्रिया', बोलीं-जनता देगी जवाब

राबड़ी ने इस ट्वीट में लिखा, ''लालू जी के लालन चुनाव मैदान में शेर बनिके दहाड़ ताड़न. जवना से भय के मारे चुहा बिल्ली बनि के ई लोग बिल में समा गेईलबा. अईसे चुहा-बिलाई में आपसी दुश्मनी रहेला लेकिन भय एईसन चीज़ बा की दु विचारधारा के लोग एक साथ रहता लोग. सुशासनों फेल बा.'' इसका मतलब लालू जी चुनाव मैदान में शेर बनकर दहाड़ रहे हैं. ये लोग युवाओं के डर से चूहा-बिल्ली बनकर बिल में घुसकर बैठे हैं. ऐसे तो चूहा-बिल्ली में आपसी दुश्मनी रहती है लेकिन डर ऐसी चीज है कि दो विचारधारा के लोग एक बनकर रहते हैं.