सिद्धू ने मोदी सरकार को बताया 'खून चूसने वाला जोंक', पेट्रोल के दाम पर बोले- 200 का पजामा और 1200 का...

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) में कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) मोदी सरकार के योजनाओं से लेकर पेट्रोल के दामों तक तंज कसने पर कोई भी कसर नहीं छोड़ रहे.

सिद्धू ने मोदी सरकार को बताया 'खून चूसने वाला जोंक', पेट्रोल के दाम पर बोले- 200 का पजामा और 1200 का...

नवजोत सिंह सिद्धू - (फाइल फोटो)

खास बातें

  • सिद्धू का एक और ट्वीट
  • पेट्रोल की कीमत पर कसा तंज
  • मोदी सरकार पर निशाना
नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) में कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) मोदी सरकार के योजनाओं से लेकर पेट्रोल के दामों तक तंज कसने पर कोई भी कसर नहीं छोड़ रहे. रोजाना किसी न किसी मुद्दे पर सिद्धू अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट करते हुए सरकार पर निशाना साध रहे हैं. फिलहाल मंगलवार को सिद्धू ने एक और ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने मोदी सरकार को आम लोगों के लिए खून चूसने वाली जोंक बताया है. सिद्धू का कहना है कि पेट्रोल की कीमत 37 रुपए है और इसका टैक्स उससे भी ज्यादा करीब 46 रुपए लिया जा रहा है. ऐसे में शायराना अंदाज के लिए मशहूर नवजोत सिंह सिद्धू ने मुहावरे का भी इस्तेमाल किया है.

बलात्कार मामले में आसाराम के बेटे नारायण साईं को उम्रकैद और 1 लाख का जुर्माना

नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) ने ट्वीट के जरिए केंद्र सरकार पर तंज कसते हुए कहा, ''37 रुपए का पेट्रोल और 46 रुपए का टैक्स, इसे कहते हैं 200 रुपए का पजामा और 1200 रुपए का नाड़ा. शास्त्र अनुसार सरकार आम लोगों से टैक्स ऐसे वसूलती है जैसे भंवरे फूलों से रस लेते हैं, मोदी सरकार आम लोगों का खून चूसने वाली जोंक बन गई. मोदी है तो मुमकिन है.'' वहीं सोमवार को भी सिद्धू ने एक ट्वीट किया था, जिसमें अप्रत्यक्ष रूप से बीजेपी (BJP) सरकार के खिलाफ निशाना साधा था. ट्विटर पर लिखा, ''एक गलत वोट आपके बच्चों को चायवाला, पकौड़ेवाला या चौकीदार बना सकता है. बाद में पछतावे से अच्छा है कि रोकथाम के लिए पहले ही तैयार रहे.''

पिछले दिनों नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ चुनाव आयोग ने सख्त कार्यवाही की थी. चुनाव आयोग (Election Commission) ने सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) के प्रचार करने पर 72 घंटे की रोक लगा दी थी.  नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) को बिहार में एक चुनावी रैली के दौरान की गई कथित सांप्रदायिक टिप्पणी का जिम्मेदार मानते हुए उनके प्रचार करने पर 72 घंटे की रोक लगाई गई थी. 

जब राहुल गांधी के 'आलू से सोना निकालने' वाले बयान पर फिर गलती कर बैठे पीएम मोदी...

क्रिकेटर से नेता बने सिद्धू ने 16 अप्रैल को कटिहार की एक चुनाव रैली में यह कहकर विवाद खड़ा कर दिया था कि मुस्लिम मतदाताओं को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को हराने के लिए एकजुट होकर मतदान करना चाहिए. इस रैली में सिद्धू कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री तारिक अनवर के पक्ष में प्रचार कर रहे थे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Video: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की नागरिकता पर विवाद