Lok Sabha Election में टिकट नहीं दिए जाने के पत्नी के दावे पर सिद्धू ने कहा- मेरी पत्नी कभी झूठ नहीं बोलेंगी

Lok Sabha Election 2019:  नवजोत सिंह सिद्धू ने अपनी पत्नी नवजोत कौर सिद्धू के कुछ दिन पहले दिए गए बयान को यह कहते हुए समर्थन किया कि वह कभी झूठ नहीं बोलेंगी.

खास बातें

  • सिद्धू के बयान पर कांग्रेस में फिर बवाल
  • समाने आई खींचतान
  • सीएम अमरिंदर पर निशाना
नई दिल्ली:

Lok Sabha Election 2019:  नवजोत सिंह सिद्धू ने अपनी पत्नी नवजोत कौर सिद्धू के कुछ दिन पहले दिए गए बयान को यह कहते हुए समर्थन किया कि वह कभी झूठ नहीं बोलेंगी. नवजोत कौर सिद्धू ने पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और कांग्रेस की वरिष्ठ नेता आशा कुमारी पर अमृतसर से लोकसभा टिकट नहीं दिए जाने का आरोप लगा कर विवाद खड़ा कर दिया था. पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू से जब उनकी पत्नी के आरोपों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मेरी पत्नी नैतिक रूप से इतनी मजबूत हैं कि वह कभी झूठ नहीं बोलेंगी. यही मेरा जवाब है. हालांकि मुख्यमंत्री ने पटियाला में इन आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि उन्हें अमृतसर या बठिंडा सीट से कांग्रेस की टिकट की पेशकश की गई लेकिन उन्होंने इनकार कर दिया था.   

Elections 2019: स्मृति ईरानी का प्रियंका गांधी पर हमला, 'अमेठी में नमाज, उज्जैन में मंदिर'

साथ ही सिंह ने कहा कि चंडीगढ़ लोकसभा सीट से कौर को टिकट नहीं मिलने में उनकी कोई भूमिका नहीं थी क्योंकि टिकट बंटवारे का काम दिल्ली में कांग्रेस के आला कमान ने किया था और उन्होंने पवन कुमार बंसल को चुना. कांग्रेस नेता और पूर्व विधायक नवजोत कौर सिद्धू ने 14 मई को आरोप लगाया था कि अमरिंदर सिंह एवं पार्टी के पंजाब मामलों की प्रभारी आशा कुमारी ने यह सुनिश्चित किया कि उन्हें अमृतसर संसदीय क्षेत्र से टिकट न मिले. 

Election 2019: उमर अब्दुल्ला ने किया ममता का समर्थन, Tweet कर कही यह बात...

चंडीगढ़ लोकसभा सीट से भी टिकट चाह रहीं कौर ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री ने दावा किया है वह अपने दम पर कांग्रेस को राज्य की 13 संसदीय सीटें दिला पाने में सक्षम हैं. उन्होंने अमृतसर में संवाददाताओं से कहा था कि कैप्टन साहब और आशा कुमारी सोचते हैं कि मैडम सिद्धू (नवजोत कौर) सांसद का टिकट पाने के योग्य नहीं हैं. अमृतसर से मुझे टिकट इस आधार पर नहीं दिया गया कि अमृतसर में दशहरा के मौके पर हुए ट्रेन हादसे (पिछले साल अक्टूबर में जिसमें 60 लोग मारे गए थे) की वजह से मैं जीत नहीं पाऊंगी. कैप्टन एवं आशा कुमारी ने कहा था कि मैडम सिद्धू जीत नहीं सकती हैं.  क्रिकेटर से नेता बने नवजोत सिंह सिद्धू और मुख्यमंत्री के बीच अंदर ही अंदर सुलग रहा यह गुस्सा पूर्व में कई मौकों पर सामने आया है. 

Video: पाक आर्मी चीफ से गले लगकर फंस गए 'गुरु'!

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com