NDTV Khabar

पीएम के रोड शो के लिए जिन रास्तों को चुना गया है, वे बताते हैं बनारस का मिज़ाज

वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का रोड शो है तो तकरीबन 5 किलोमीटर का, लेकिन इस 5 किलोमीटर के रोड शो में वह बनारस के पूरे मिजाज को छू लेंगे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पीएम के रोड शो के लिए जिन रास्तों को चुना गया है, वे बताते हैं बनारस का मिज़ाज

पीएम मोदी वाराणसी में रोड शो करेंगे.

नई दिल्ली :

वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का रोड शो है तो तकरीबन 5 किलोमीटर का, लेकिन इस 5 किलोमीटर के रोड शो में वह बनारस के पूरे मिजाज को छू लेंगे. उनका रोड शो बीएचयू गेट के पास लंका इलाके में महामना मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा से शुरू होगा बीएचयू की वजह से ही बनारस को सर्व विद्या की राजधानी भी कही जाती है. साफ है कि यहां से वे प्रोफेसर  छात्रों कोई बड़ा संदेश देते हुए निकलेंगे. उसके बाद रास्ते में मुमुक्षु भवन पड़ेगा यहां पर सदियों से लोग काशी में मुक्त की कामना लेकर यहां रहते हैं. इसके बाद उनका काफिला अस्सी घाट पहुंचेगा, जिसे बनारस की अड़ी यानी बैठक बाजी के लिए जाना जाता है, वहां लोग बड़ी संख्या में उनका स्वागत करेंगे. उसके बाद जब वह थोड़ा सा और आगे बढ़ेंगे तो वह सोनारपुरा के उस इलाके में पहुंचेंगे जहां एक तरफ बंगाली समुदाय के लोग बहुत ज्यादा रहते हैं.

 वाराणसी में 10 KM लंबा रोड शो करेंगे PM मोदी, NDA का होगा शक्ति प्रदर्शन


तो वहीं दूसरी तरफ इसी मोहल्ले में हरिश्चंद्र घाट भी है जहां कभी राजा हरिश्चंद्र की सत्यवादी होने की परीक्षा ली गई थी आज राजनीति में सत्य और असत्य की कसौटी पर कैसे जाने के लिए भी यह चुनाव हो रहा है. इसके बाद उनका काफिला मुस्लिम बाहुल्य मदनपुरा के इलाके में पहुंचेगा, जो पूरी तरीके से बुनकर समाज के लोग हैं. बुनकर समाज के इस इलाके में भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वागत की व्यापक तैयारी की गई है. मदनपुरा से जब आगे चले तो गोदौलिया का चौराहा आया वह गोदौलिया जो बनारस का प्राण कहा जाता है. पुराने मोहल्ले का पक्का महाल का इलाका है और वहां के बाद उनका काफिला दशाश्वमेध घाट की ओर बढ़ता है जहां कभी ब्रह्मा ने अश्वमेध यज्ञ किया था प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राजनीति के इस महायज्ञ में वह यहां की विश्व प्रसिद्ध गंगा आरती में शामिल होंगे.

पीएम मोदी नामांकन से पहले आज वाराणसी में करेंगे बड़ा रोड शो, सुरक्षा की चाक-चौबंद व्यवस्था

टिप्पणियां

यहां पीएम एक बड़ा संदेश देंगे क्योंकि बनारस धर्म की नगरी भी कही जाती है और उसका अस्तित्व ही गंगा और शिव के मिलन का है. साफ है कि उनका यह जुलूस भले ही बहुत बड़े इलाके से न गुजर रहा बनारस के लेकिन बनारस के उन इलाकों से जरूर गुजर रहा है जहां से वह पूरे बनारस के मिजाज को नसीर टटोल लेंगे बल्कि उसे एक नई धारा देने की कोशिश भी करेंगे.  

Video: रणनीति : वाराणसी में पीएम मोदी Vs प्रियंका?



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement