NDTV Khabar

BJP सांसद बोले- लोकसभा चुनाव हमारे लिए होगा संघर्ष, सपा-बसपा गठबंधन की वजह से कड़ी होगी लड़ाई

भाजपा सांसद ने कहा, 'यह स्वीकार करने में कोई हानि नहीं है कि सपा (समाजवादी पार्टी) और बसपा (बहुजन समाज पार्टी) के महागठबंधन के बाद लड़ाई मुश्किल होगी.'

954 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
BJP सांसद बोले- लोकसभा चुनाव हमारे लिए होगा संघर्ष, सपा-बसपा गठबंधन की वजह से कड़ी होगी लड़ाई

पूर्व केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान.

खास बातें

  1. पूर्व केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान ने कबूला
  2. महागठबंधन के बाद लड़ाई मुश्किल होगी
  3. लोकसभा चुनाव एक मुश्किल संघर्ष होगा
नई दिल्ली:

भाजपा (BJP)के लिए 2019 लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) एक मुश्किल संघर्ष होगा, खासकर उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा गठबंधन (SP-BSP Alliance) के वजह लड़ाई कड़ी होगी. यह स्वीकार किया है पूर्व केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान (Sanjeev Balyan) ने. भाजपा सांसद ने कहा, 'यह स्वीकार करने में कोई हानि नहीं है कि सपा (समाजवादी पार्टी) और बसपा (बहुजन समाज पार्टी) के महागठबंधन के बाद लड़ाई मुश्किल होगी.' 2013 मुजफ्फरनगर दंगे को उकसाने के आरोपी नेताओं में से एक बालियान ने कहा कि जब कुछ राजनीतिक दल एकजुट होते हैं तो एक सहज प्रतिक्रिया होती है.

उन्होंने कहा, 'प्रत्येक क्रिया के विरुद्ध प्रतिक्रिया होती है. इसमें कोई संदेह नहीं है कि समाज का एक बड़ा वर्ग हमें वोट नहीं करता है. चाहे वह धार्मिक आधार पर हो या किसी अन्य आधार पर.' बता दें, 2014 में लोकसभा चुनाव से कुछ माह पहले 2013 में हुए सांप्रदायिक दंगे में करीब 62 लोगों की मौत हुई थी और 50,000 से ज्यादा लोग विस्थापित हुए थे.


अखिलेश यादव पर अमर सिंह का हमला, 'थ्री-C' की थ्योरी पर हुआ SP-BSP गठबंधन, जानें क्या हैं इसके मायने...

कई राजनीतिक पर्यवेक्षकों का मानना है कि भाजपा ने उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों में 71 सीटें सांप्रदायिक ध्रुवीकरण के कारण जीती थीं जिसकी शुरुआत मुजफ्फरनगर से हुई थी. 2014 में बालियान ने बसपा के कादिर राणा को चार लाख वोटों से हराया था. बालियान को 2014 में मोदी सरकार में कृषि व खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री बनाया गया था.

गठबंधन की राजनीति का इतिहास: अब तक NDA और UPA में रहा है बराबरी का मुकाबला, कब-कब सरकारें पूरा नहीं कर पाईं कार्यकाल

2016 में उन्हें जल संसाधन, नदी विकास मंत्रालय में भेज दिया गया और मंत्रिमंडल के अगले फेरबदल में उन्हें मंत्रिमंडल से बाहर कर दिया गया. बालियान ने कहा कि जब 2014 में भाजपा जीती थी, लोगों की आकांक्षाए काफी ज्यादा थीं और लोगों को अभी भी लगता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने काफी कुछ किया है. उन्होंने कहा, 'मोदीजी के बारे में सकारात्मकता अभी भी लोगों में है. इसमें कमी नहीं हुई है. हम सरकार के उपलब्धियों पर चुनाव लड़ेंगे.'

(इनपुट- आईएएनएस)

यूपी में गठबंधन पर कांग्रेस ने कहा: जाल में फंसी SP-BSP, इन्होंने वही किया जो BJP चाहती थी

टिप्पणियां

VIDEO- सपा और बसपा के नेता बोले- गठबंधन के बाद दोनों दलों के कार्यकर्ता एकजुट

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement