NDTV Khabar

उमा भारती ने प्रियंका गांधी पर किया हमला, बोलीं- जिसका पति चोरी के आरोप में हो, उसको तो...

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) को लेकर पक्ष-विपक्ष में काफी तकरार देखने को मिल रही है. कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को लेकर बीजेपी सरकार की केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने एक बयान दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उमा भारती ने प्रियंका गांधी पर किया हमला, बोलीं- जिसका पति चोरी के आरोप में हो, उसको तो...

उमा भारती- (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. उमा भारती ने किया प्रियंका पर हमला
  2. लोकसभा चुनाव में आने पर दी प्रतिक्रिया
  3. रॉबर्ट वाड्रा को बनाया निशाना
नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) को लेकर पक्ष-विपक्ष में काफी तकरार देखने को मिल रही है. कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) को लेकर बीजेपी (BJP) सरकार की केंद्रीय मंत्री उमा भारती (Uma Bharati) ने एक बयान दिया है. मीडिया से बात करते वक्त किसी ने उमा भारती से पूछा कि लोकसभा चुनाव में प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के सक्रिय होने पर क्या प्रभाव पड़ने वाला है. इस पर उमा भारती ने प्रियंका के पति रॉबर्ट वाड्रा पर निशाना साधते हुए चोरी का आरोपी कहा. उमा भारती (Uma Bharati) ने कहा, 'कुछ नहीं, जिसका पति चोरी के आरोप में हो, उसको तो लोग किस नजर से..., चोर की पत्नी को किस नजर से देखा जाता है, हिन्दुस्तान उसी नजर से देखेगा उनको.'

दिल्ली : आम आदमी पार्टी के लोकसभा उम्मीदवार गुरुवार से नामांकन दाखिल करना शुरू करेंगे


उमा भारती ने इससे पहले भी कई बार विपक्ष पर हमला बोल चुकी हैं. इस बार लोकसभा चुनाव के चलते प्रियंका गांधी पर सवाल पूछे जाने पर अपने राय को स्पष्ट रखते हुए हमला किया है. भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की वरिष्ठ नेता उमा भारती (Uma Bharti) ने लोकसभा चुनाव न लड़ने के फैसले के बाद पार्टी के लिए सार्वजनिक स्तर पर बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि यदि मैं इस लोकसभा चुनाव को लड़ने का फैसला करती तो झांसी से ही लड़ती, किंतु पार्टी ने मेरे फैसले का सम्मान किया, मुझे राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया. मैं इस फैसले से बहुत खुश हूं.

सेना पर सवाल करें लेकिन इसका चुनावी राजनीति में इस्तेमाल मत कीजिए

इसके अलावा उमा ने अयोध्या में राम मंदिर मसले पर भी कहा था कि ''राम मंदिर के लिए किसी आंदोलन की ज़रूरत नहीं है. माननीय अदालत ने कहा था कि ये मामला आस्था का विवाद नहीं बल्कि ज़मीन का विवाद है. 2010 में फ़ैसला आ गया कि बीच का डोम राम लला का है. तो आंदोलन सफल हो गया, इस बात को साबित करने में कि राम जन्मभूमि है वह. इस मामले में सब पार्टियों को एक करने का प्रयास होना चाहिए. मुझे आगे भी कहेंगे तो मैं कोशिश करूंगी. राम मंदिर का मसला देश के सौहार्द के साथ जुड़ा है इसलिए जितनी जल्दी हो सके समाधान करना चाहिए.''

टिप्पणियां

Video:पर्चा भरने से पहले राजनाथ सिंह का रोड शो


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement