NDTV Khabar

यूपी के मंत्री ने मायावती पर किया हमला, बोले- 'ये सब फ्यूज्ड ट्रांसफॉर्मर हैं, अगर कोई इससे तार जोड़ेगा तो...'

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) के दौरान राजनेताओं द्वारा एक-दूसरे पर अजीबोगरीब बयान से जोरदार प्रहार कर रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
यूपी के मंत्री ने मायावती पर किया हमला, बोले- 'ये सब फ्यूज्ड ट्रांसफॉर्मर हैं, अगर कोई इससे तार जोड़ेगा तो...'

यूपी मंत्री सुरेश खन्ना

खास बातें

  1. यूपी के मंत्री हैं सुरेश खन्ना
  2. मायावती पर किया हमला
  3. कह डाली ये बात
नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) के दौरान राजनेताओं द्वारा एक-दूसरे पर अजीबोगरीब बयान से जोरदार प्रहार कर रहे हैं. बीजेपी (BJP) नेता व यूपी के मंत्री सुरेश खन्ना (Suresh Khanna) ने बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की मुखिया मायवती (Mayawati) पर हमला बोले हुए उन्हें फ्यूज्ड ट्रांसफॉर्मर कह डाला. न्यूज एजेंसी एएनआई के ट्वीट के मुताबिक सुरेश खन्ना (Suresh Khanna) का कहना है कि फ्यूज्ड ट्रांसफॉर्मर की क्या चर्चा करना. उत्तर प्रदेश के मंत्री सुरेश खन्ना (Suresh Khanna) ने मायावती (Mayawati) पर हमला बोलते हुए शाहजहांपुर में रैली के दौरान बोले, ''देखिए ये सब फ्यूज्ड ट्रांसफॉर्मर हैं, फ्यूज्ड ट्रांसफॉर्मर से अगर कोई तार जोड़ेगा तो ना तो उसका बल्ब जलेगा, ना पंखा चलेगा... ना पानी मिलेगा ना ही हवा मिलेगी. फ्यूज्ड ट्रांसफॉर्मर की क्या चर्चा करना?'' हालांकि अभी तक इस बयान पर मायावती की तरफ से कोई बयान नहीं आया.

कांग्रेस ने अमेठी में स्मृति ईरानी को 5 लाख वोटों से हराने का रखा लक्ष्य, राहुल गांधी के रणनीतिकारों ने बनाया ये प्लान


बता दें, मायावती (Mayawati) ने इससे पहले रविवार को पीएम मोदी पर जमकर हमला बोला था, जिसमें उन्होंने कहा था कि उन्हें वजीर-ए-आजम बनाने वाली उत्तर प्रदेश की जनता ने अब उन्हें इस पद से हटाने की पूरी तैयारी कर ली है. मायावती ने कहा कि प्रधानमंत्री उत्तर प्रदेश में घूम-घूम कर यह कह रहे हैं कि इस प्रदेश ने ही उन्हें देश का प्रधानमंत्री बनाया है, जो शत प्रतिशत सही है, लेकिन जनता उनसे यह भी पूछ रही है कि इस पद पर पहुंचने के बाद उन्होंने सूबे की 22 करोड़ जनता के साथ वादाखिलाफी और विश्वासघात क्यों किया?

आत्मघाती हमलों के पीछे था बेहद अमीर परिवार, मारे गए थे 350 से ज्यादा लोग

उत्तर प्रदेश में 80 सीटें, 7 चरणों में मतदान
11 अप्रैल: गौतमबुद्ध नगर, कैराना, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, मेरठ, बागपत, गाजियाबाद, सहारनपुर
18 अप्रैल: अलीगढ़, अमरोहा, बुलंदशहर, हाथरस, मथुरा, आगरा, फतेहपुर सीकरी, नगीना
23 अप्रैल: मुरादाबाद, रामपुर, संभल, फिरोजाबाद, मैनपुरी, एटा, बदायूं, आंवला, बरेली, पीलीभीत
29 अप्रैल: शाहजहांपुर, खेड़ी़, हरदोई, मिश्रिख, उन्नाव, फर्रुखाबाद, इटावा, कनौज, कानपुर, अकबरपुर, जालौन, झांसी, हमीरपुर
6 मई: फिरोजाबाद, धौरहरा, सीतापुर, माेहनलालगंज, लखनऊ, रायबरेली, अमेठी, बांदा, फतेहपुर, कौशांबी, बाराबंकी, बहराइच, कैसरगंज, गोंडा
12 मई: सुल्तानपुर, प्रतापगढ़, फूलपुर, प्रयागराज, अंबेडकर नगर, श्रावस्ती, डुमरियागंज, बस्ती, संत कबीर नगर, लालगंज, आजमगढ़, जौनपुर, मछलीशहर, भदोही
19 मई: महाराजगंज, गोरखपुर, कुशीनगर, देवरिया, बांसगांव, घोसी, सालेमपुर, बलिया, गाजीपुर, चंदौली, वाराणसी, मिर्जापुर, रॉबर्ट्सगंज

टिप्पणियां

Video: क्‍या नीतीश कुमार पार लगाएंगे गिरिराज सिंह की नैया?



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement