जुलाई की डेडलाइन से पहले असम की NRC से एक लाख नाम और हटाए गए

एक लाख से ज़्यादा लोगों को असम के लिए बने ड्राफ्ट नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिज़न्स (NRC) से हटा दिया गया है.

जुलाई की डेडलाइन से पहले असम की NRC से एक लाख नाम और हटाए गए

प्रतीकात्मक तस्वीर

एक लाख से ज़्यादा लोगों को असम के लिए बने ड्राफ्ट नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिज़न्स (NRC) से हटा दिया गया है. हटाए जाने वाले इन अतिरिक्त नामों की सूची बुधवार को जारी की गई, जिसमें 1.02 लाख नाम हैं. ये नाम पिछले साल जुलाई में प्रकाशित ड्राफ्ट नागरिक सूची में शामिल थे, लेकिन इन्हें बाद में अयोग्य पाया गया.

जिन लोगों के नाम हटाए गए हैं, उन्हें व्यक्तिगत रूप से उनके आवासीय पतों पर खत भेजकर सूचित किया जाएगा. ये लोग निर्धारित NRC सहायता केंद्रों पर 11 जुलाई तक अपने दावे दाखिल कर सकेंगे.

दरभंगा मेडिकल कॉलेज में लापरवाही: बाएं हाथ में था फ्रैक्चर, दाएं हाथ में बांधा प्लास्टर, परिजन बोले- दवाई भी नहीं दी

NRC का उद्देश्य बांग्लादेश के सटे असम राज्य में गैरकानूनी रूप से बसे लोगों की पहचान करना है. जब 30 जुलाई, 2018 को ड्राफ्ट NRC प्रकाशित की गई थी, 40.7 लाख लोगों के नाम हटाए जाने को लेकर काफी विवाद हुआ था. कुल 3.29 करोड़ लोगों में से ड्राफ्ट NRC में सिर्फ 2.9 करोड़ नाम शामिल किए गए थे.

असम में NRC को सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में अपडेट किया जा रहा है. अंतिम NRC, या असम के नागरिकों की सूची, 31 जुलाई को प्रकाशित की जाएगी.

संत स्वामी सत्यमित्रानंद का निधन, उपराष्ट्रपति नायडू और पीएम मोदी ने ने जताया शोक

Newsbeep

ऐसा शख्स, जिसका नाम NRC का हिस्सा नहीं होगा, वह NRC प्रशासन से मिले रिजेक्शन ऑर्डर की सत्यापित प्रति के साथ अपने सबूतों को किसी भी पंचाट में पेश कर सकता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video: असम के CM का अपमान करने के आरोप में BJP सोशल मीडिया सेल का सदस्य गिरफ्तार