NDTV Khabar

ह्यूस्टन बाढ़ में फंसे 200 भारतीय, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप करेंगे टेक्सास का दौरा

अमेरिका में तूफान से तबाह टेक्सास प्रांत में करीब एक करोड़, 30 लाख लोग विनाशकारी बाढ़ और घनघोर बारिश की वजह मुश्किल में फंसे है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ह्यूस्टन बाढ़ में फंसे 200 भारतीय, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप करेंगे टेक्सास का दौरा

टेक्सास में 50 इंच तक पानी भर गया है. लोग घरों की छतों पर शरण लिए हुए हैं

खास बातें

  1. आज राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप करेंगे बाढ़ प्रभावित इलाके का दौरा
  2. ह्यूस्टन यूनिवर्सिटी में तकरीबन 200 भारतीय छात्र फंसे हुए हैं
  3. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज पूरे मामले पर नजर रखे हुए हैं
टेक्सास:

अमेरिका में तूफान से तबाह टेक्सास प्रांत में करीब एक करोड़, 30 लाख लोग विनाशकारी बाढ़ और घनघोर बारिश की वजह मुश्किल में फंसे है. प्रांत में सड़कों पर पानी भर गया और कम से कम पांच व्यक्तियों की जान चली गई. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रप तूफान हार्वे से आई बाढ़ का जायजा लेने के लिए आज टेक्सास जाएंगे. अमेरिका में 13 साल में पहली बार ऐसा भयंकर तूफान आया है.

यह भी पढ़ें: अमेरिका के टेक्सास में 'हार्वे' से भारी तबाही, 5 लोगों की मौत की खबर

हार्वे तूफान सोमवार जब टेक्सास पहुंचा तो वह विनाश का मंजर पीछे छोड़ गया. इस तूफान के अमेरिका की खाड़ी के तट पर पहुंचने के बाद से इलाके में भारी बारिश और तबाही हुई. सैंकड़ो लोग अपनी जान बचाने के लिए मकानों की छतों पर शरण लिये हुए हैं.

टिप्पणियां

ह्यूस्टन के भारतीय वाणिज्य दूतावास के अनुसार ह्यूस्टन विश्वविद्यालय में कम से कम 200 भारतीय विद्यार्थी बाढ़ में फंस गए हैं. ह्यूस्ट में अच्छी खासी संख्या में भारतीय रहते हैं. उन्हें निकालने का काम जारी है. भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज लगातार वहां संपर्क बनाए हुए हैं.


फिलहाल दक्षिण टेक्सास में भयंकर वर्षा हो रही है. मौसम विभाग का कहना है कि पानी का स्तर 50 इंच तक पहुंच सकता है. ह्यूस्टन और कई अन्य शहरों में सड़कों पर पानी भर गया है.
  अधिकारियों का कहना है कि उन्हेंने 1000 से अधिक लोगों की जान बचाई है. व्हाइट हाउस के अनुसार ट्रंप ने हार्वे तूफान पर कल कैबिनेट की दूसरी बैठक बुलाई ताकि राहत एवं बचाव प्रयास तेज किए जाएं.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement