NDTV Khabar

मलेशियाई PM का दावा - PM मोदी ने जाकिर नाइक के प्रत्यर्पण के लिए कभी नहीं कहा

पीएम मोदी ने इस महीने की शुरुआत में रूस में 5वें ईस्ट इकोनॉमिक फोरम के मौके पर महातिर मोहम्मद से मुलाकात की थी. उनकी बैठक के बाद, भारतीय विदेश सचिव विजय गोखले ने कहा था कि दोनों नेताओं ने नाइक के प्रत्यर्पण पर चर्चा की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मलेशियाई PM का दावा - PM मोदी ने जाकिर नाइक के प्रत्यर्पण के लिए कभी नहीं कहा

पीएम मोदी ने इस महीने की शुरुआत में रूस में 5वें ईस्ट इकोनॉमिक फोरम के मौके पर महातिर मोहम्मद से मुलाकात की थी.

कुआलालंपुर:

मलेशिया के प्रधानमंत्री एम. मोहम्मद ने मंगलवार को उस दावे का खंडन कर दिया,  जिसमें कहा जा रहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विवादास्पद इस्लामिक उपदेशक जाकिर नाइक को भारत में प्रत्यर्पित करने के लिए कहा था. मलेशिया के एक रेडियो को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा, 'ज्यादा देशों (नाइक) को वह नहीं चाहिए. भारत ने जोर नहीं दिया. जब मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिला, तो उन्होंने मुझसे यह नहीं कहा कि वह इस आदमी को वापस चाहते हैं. यह आदमी भारत के लिए खतरा हो सकते हैं.

पीएम मोदी ने इस महीने की शुरुआत में रूस में 5वें ईस्ट इकोनॉमिक फोरम के मौके पर महातिर मोहम्मद से मुलाकात की थी. उनकी बैठक के बाद, भारतीय विदेश सचिव विजय गोखले ने कहा था कि दोनों नेताओं ने नाइक के प्रत्यर्पण पर चर्चा की.

गोखले ने उस वक्त कहा था, 'प्रधानमंत्री मोदी ने जाकिर नाइक के प्रत्यर्पण का मुद्दा उठाया. दोनों पक्षों ने फैसला किया है कि हमारे अधिकारी मामले के संबंध में संपर्क में रहेंगे और यह हमारे लिए एक महत्वपूर्ण मुद्दा है.' 


मलेशिया के गृह मंत्री का बयान- कोई भी कानून से ऊपर नहीं, डॉ. जाकिर नाइक भी नहीं

पिछली सरकार के तहत जाकिर नाइक को स्थायी नागरिकता दिए जाने का जिक्र करते हुए मोहम्मद ने कहा कि नाइक को भेजने के लिए कुआलालंपुर एक "जगह" खोजने की कोशिश कर रहा है. उन्होंने कहा, 'हम ऐसी जगह खोजने की कोशिश कर रहे हैं, जहां वह जा सकते हैं, लेकिन कोई उन्हें स्वीकार नहीं करना चाहता.'

बता दें, जाकिर नाइक पर मलेशिया में सार्वजनिक रूप से भाषण देने पर बैन लगा दिया गया. हालही मलेशिया के गृहमंत्री एम. यासीन ने कहा था कि वह कानून से ऊपर नहीं है. उन्होंने कहा, कोई भी कानून से ऊपर नहीं है, डॉ. जाकिर नाइक भी नहीं. इससे पहले मलेशिया की सरकार ने जाकिर नाइक (Zakir Naik) के भाषण देने पर रोक लगा दी थी. मलेशियाई अधिकारियों ने जाकिर नाइक को हिंदुओं एवं चीनियों के खिलाफ कथित नस्ली टिप्पणी करने के मामले में दूसरी बार तलब किया था. इससे कुछ घंटे पहले प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद ने विवादित भारतीय इस्लामी धर्म उपदेशक को कहा था कि उसे देश में राजनीतिक गतिविधियों में शामिल होने की इजाजत नहीं है. 

भारत में वांछित जाकिर नाइक पर मलेशिया सरकार ने भाषण देने पर लगाई रोक, हिंदू समुदाय के खिलाफ दिया था बयान

न्यूज एजेंसी ने पुलिस कॉरपोरेट कम्यूनिकेशन के हेड दातुक असमावती अहमद के हवाले से लिखा है, 'हां, ऐसा आदेश सभी पुलिस थानों को दिया गया है, और यह राष्ट्रीय सुरक्षा के हित में और नस्लीय सौहार्द बनाए रखने के लिए किया गया है.'

टिप्पणियां

मलेशिया में हिंदुओं के खिलाफ टिप्पणी करने पर जाकिर नाइक से होगी पूछताछ, जानें क्या दिया था बयान

VIDEO: नेशनल रिपोर्टर : ED ने जाकिर नाइक की 18.37 करोड़ की संपत्ति कुर्क की



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement