NDTV Khabar

नये पीएम इमरान खान के भाषण के बाद पाकिस्तान में लालू प्रसाद यादव की चर्चा

सैयद खुर्शीद शाह ने कहा कि इमरान खान का भाषण सुनकर ऐसा लगता है कि भारत के लालू प्रसाद यादव उनके सलाहकार हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नये पीएम इमरान खान के भाषण के बाद पाकिस्तान में लालू प्रसाद यादव की चर्चा

पाकिस्तान के पीएम पद की शपथ लेते इमरान खान

नई दिल्ली: पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बनने के बाद इमरान खान की ओर से दिये पहले भाषण से आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव का नाम जोड़ दिया गया है. पाकिस्तान के पीपुल्स पार्टी के नेता सैयद खुर्शीद शाह ने कहा कि इमरान खान का भाषण सुनकर ऐसा लगता है कि भारत के लालू प्रसाद यादव उनके सलाहकार हैं. शाह ने कहा कि ऐसा नहीं लगता है कि देश का प्रधानमंत्री बोल रहा है. यह भाषण देश के पीएम के स्तर का बिलकुल नहीं था.  दुनिया न्यूज में छपी खबर के मुताबिक शाह ने कहा, 'इमरान खान के भाषण से ऐसा लगता है कि भारत के लालू यादव उनके सलाहकार हैं.' आपको बता दें कि प्रधानमंत्री चुने जाने के बाद इमरान खान नेशनल असेंबली में भाषण के दौरान उस समय नाराज हो गये थे जब विपक्ष के कुछ नेता शोरगुल करने लगे और संसद में धरने पर बैठ गये. इस दौरान इमरान खान ने भी तेज आवाज में भाषण दिया. इस पर सैयद खुर्शीद शाह ने कहा कि उनका रवैया गैर-जिम्मेदराना था. पीपीपी के नेता कहा कि अगर यही नया पाकिस्तान है तो ईश्वर हम पर दया करे. 

पाकिस्तान के नये प्रधानमंत्री इमरान खान बुलेटप्रूफ कारों की करवाएंगे नीलामी

आपको बता दें कि इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ हाल ही में हुये चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी थी. शुक्रवार को खान को पाकिस्तान का नया प्रधानमंत्री चुना गया.  इसके बाद दिये भाषण में इमरान खान ने कहा कि वह देश में बदलाव लाएंगे जिसका 70 सालों से इंतजार किया जा रहा था. वह ऐसे लोगों की जरूर पहचान करेंगे जिन्होंने इस लूटा है.

टिप्पणियां
पूर्व क्रिकेटर और PTI प्रमुख इमरान खान ने ली प्रधानमंत्री पद की शपथ​


वहीं पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद पर इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में पड़ोसी देश के सैन्य प्रमुख को गले लगाने के लिए आलोचनाओं का सामना कर रहे पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने इसका बचाव किया. पंजाब सरकार में मंत्री सिद्धू ने पूछा कि अगर कोई कहे कि हमारी संस्कृति एक है और ऐतिहासिक गुरुद्वारा करतारपुर साहिब का रास्ता खोलने की बात करे तो उन्हें क्या करना चाहिए था? सिद्धू वाघा-अटारी सीमा के जरिए पाकिस्तान से लौटे. वह क्रिकेटर से नेता बने इमरान खान के न्यौते पर शपथ ग्रहण समारोह में भाग लेने गए अकेले भारतीय थे.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement