चेतन भगत बोले- भारत में 40 हजार कॉलेज हैं, सिर्फ JNU नहीं, जमकर हुए ट्रोल, लोग बोले- 'ये यूनिवर्सिटी है...'

लेखक चेतन भगत (Chetan Bhagat) को रविवार को ट्विटर पर जमकर ट्रोल हुए. ऐसा चेतन भगत द्वारा जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) पर ट्वीट करने के बाद किया गया। हालांकि, उन्हें समर्थन भी मिला.

चेतन भगत बोले- भारत में 40 हजार कॉलेज हैं, सिर्फ JNU नहीं, जमकर हुए ट्रोल, लोग बोले- 'ये यूनिवर्सिटी है...'

चेतन भगत बोले- भारत में 40 हजार कॉलेज हैं, सिर्फ JNU नहीं, जमकर हुए ट्रोल

लेखक चेतन भगत (Chetan Bhagat) को रविवार को ट्विटर पर जमकर ट्रोल हुए. ऐसा चेतन भगत द्वारा जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) पर ट्वीट करने के बाद किया गया। हालांकि, उन्हें समर्थन भी मिला. उन्होंने ट्वीट किया "जेएनयू सिर्फ एक कॉलेज है." आगे लिखा, "भारत में करीब 40,000 कॉलेज हैं." उन्होंने लिखा, "मैं समझता हूं यह महत्वपूर्ण है. लेकिन किसी एक कॉलेज को कितना महत्व व ध्यान दिया जाए, इसकी सीमा है. 2 अरब लोगों वाले देश में और अधिक महत्वपूर्ण मुद्दे हैं."

विपक्षी एकता को झटका? CAA के खिलाफ सोनिया की बैठक में नहीं शामिल होंगी ममता और मायावती, AAP ने भी किया मना, 10 बड़ी बातें

इस पोस्ट को 7 हजार बार रिट्वीट किया गया और 41.5 हजार लाइक किए गए. एक यूजर ने लिखा, "निश्चित रूप से हैं, चेतन. लेकिन, कितने अन्य कॉलेजों में कुछ फर्जी वीडियो के आधार पर छात्रों को 'देशद्रोही' और 'टुकड़े टुकड़े गिरोह' करार दिया गया है? कितने अन्य कॉलेजों में उन्हें डंडों, रॉड से पीटा गया है?"

दो सौ से अधिक कुलपतियों और शिक्षाविदों ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, विश्वविद्यालयों में हिंसा के लिए इन्हें ठहराया जिम्मेदार

एक अन्य यूजर ने लिखा, "यह एक कॉलेज नहीं है. यह एक खरपतवार वाला खेत है और इसे वैसे ही कुचलकर हटाया जाना चाहिए जैसे एक किसान खरपतार को अपने खेत से हटाता है." एक यूजर ने लिखा, "आप सिर्फ एक लेखक हैं. भारत में बहुत सारे हैं. आप सोचते है कि आप महत्वपूर्ण हैं, लेकिन आपको हद पता होनी चाहिए कि आपको कितना महत्व मिलना चाहिए." कई यूजर ने उन्हें याद दिलाया कि जेएनयू एक कॉलेज नहीं बल्कि विश्वविद्यालय है.

JNU के वीसी हमले के 'मास्टरमाइंड', आपराधिक कार्रवाई शुरू की जाए: कांग्रेस रिपोर्ट



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com