महाराष्ट्र की राजनीति पर चेतन भगत का मजेदार ट्वीट, बोले- 'दूल्हा-दुल्हन को मंडप पर लाओ...'

Maharashtra Government Formation 2019: महाराष्ट्र में सियासी हलचल तेज है. इसी बीच चेतन भगत (Chetan Bhagat) ने ट्विटर पर मजेदार ट्वीट किया है. उन्होंने फ्लोर टेस्ट (#FloorTest) और महासरप्राइज (#MahaSurprise) हैशटैग के साथ एक जोक शयेर किया.

महाराष्ट्र की राजनीति पर चेतन भगत का मजेदार ट्वीट, बोले- 'दूल्हा-दुल्हन को मंडप पर लाओ...'

Maharashtra की राजनीति पर चेतन भगत का मजेदार ट्वीट.

Maharashtra Government Formation 2019: महाराष्ट्र में सियासी हलचल तेज है. शनिवार को देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री (Maharashtra CM) जबकि अजित पवार (Ajit Pawar) ने प्रदेश के उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली. इसके बाद शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के निर्णय के खिलाफ उच्चतम न्यायालय का रुख किया और तत्काल सुनवाई करने की मांग की. सुप्रीम कोर्ट ने सभी पक्षों की दलीलें सुनने के बाद फैसला सुरक्षित रखा है और तीन जजों की बेंच मंगलवार सुबह 10:30 बजे फैसला सुनाएगी. देवेंद्र फडणवीस भले ही मुख्यमंत्री के पद पर बैठ गए हों, लेकिन शिवसेना (Shiv Sena), एनसीपी (NCP) और कांग्रेस (Congress) का कहना है कि उनके पास सबसे ज्यादा विधायक हैं, ऐसे में वो जल्द से जल्द फ्लोर टेस्ट (Floor Test) की मांग कर रहे हैं. इसी बीच चेतन भगत (Chetan Bhagat) ने ट्विटर पर मजेदार ट्वीट किया है. उन्होंने फ्लोर टेस्ट (#FloorTest) और महासरप्राइज (#MahaSurprise) हैशटैग के साथ एक जोक शयेर किया.

Maharashtra Govt Formation: दलीलें सुनने के बाद SC ने सुरक्षित रखा फैसला, कल सुबह 10.30 बजे सुनाया जाएगा फैसला

चेतन भगत ने सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई खत्म होने के बाद ट्वीट किया. उन्होंने एक जोक शेयर किया, जो काफी वायरल हो रहा है. लोग इस पर अपने खूब रिएक्शन्स दे रहे हैं.

कांग्रेस-NCP और शिवसेना ने सरकार बनाने का दावा किया पेश, चिट्ठी पर शरद पवार के 54 में से केवल 51 MLAs के दस्तख्त

उनका ट्वीट इस प्रकार है-
कोर्ट: क्या आप 'B' से शादी करना चाहती हैं?
N: हां
कोर्ट: पर आपके पापा 'S' से शादी का वादा कर चुके हैं.
N: पापा मान जाएंगे.
पापा: मैं कभी नहीं मानूंगा.
कोर्ट: एक काम करो, दोनों दूल्हा और दुल्हन को मंडप पर लाओ. फैसला वहीं होगा. #FloorTest #MahaSurprise

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


सुप्रीम कोर्ट की आज की सुनवाई में हुआ ऐसा...
सुप्रीम कोर्ट ने रविवार को कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना की याचिका पर सुनवाई करते हुए केंद्र सरकार से राज्यपाल की चिट्ठी और समर्थन वाली चिट्ठी मांगी थी. इसके बाद केंद्र सरकार की ओर से पेश हुए सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कोर्ट के सामने दोनों खत पेश कर दिए. सुप्रीम कोर्ट में अजित पवार के समर्थन वाला खत पेश किया गया. 54 विधायकों के समर्थन पत्र में कहा गया कि हम महाराष्ट्र में ज्यादा समय तक राष्ट्रपति शासन नहीं चाहते. हम राज्य में स्थायी सरकार चाहते हैं. इसलिए हम फडणवीस को सरकार बनाने के लिए समर्थन देते हैं. सुप्रीम कोर्ट ने कल आपना फैसला सुनाएगा. शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के सभी विधायक इस वक्त मुंबई के अलग-अलग होटलों में रुके हैं.