Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

New Year पर दुनियाभर में जन्में 4 लाख बच्चे, भारत ने बनाया रिकॉर्ड, चीन को दिया पछाड़

नए साल में विश्वभर में करीब 3,92,078 बच्चों ने जन्म लिया और इनमें से करीब 67,385 बच्चे भारत में पैदा हुए हैं. इसके बाद दूसरे नंबर पर चीन है, जहां नववर्ष पर 46,299 बच्चे पैदा हुए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
New Year पर दुनियाभर में जन्में 4 लाख बच्चे, भारत ने बनाया रिकॉर्ड, चीन को दिया पछाड़

नववर्ष पर चार लाख से अधिक बच्चे पैदा हुए, सर्वाधिक 67,385 जन्म भारत में

नववर्ष पर विश्वभर में करीब 4,00,000 बच्चों ने जन्म लिया और सबसे अधिक 67,385 बच्चे भारत में जन्मे हैं. यूनिसेफ के अनुसार, नए साल में विश्वभर में करीब 3,92,078 बच्चों ने जन्म लिया और इनमें से करीब 67,385 बच्चे भारत में पैदा हुए हैं. इसके बाद दूसरे नंबर पर चीन है, जहां नववर्ष पर 46,299 बच्चे पैदा हुए.

हार्दिक पंड्या ने अंगूठी पहनाने के बाद गाया गाना, खिलखिला उठीं Natasa, देखें सगाई के Videos

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनिसेफ) की नई कार्यकारी निदेशक हेनरिटा एच. फोर ने कहा, ‘‘नए वर्ष और नए दशक की शुरुआत उन उम्मीदों और आकांक्षाओं को व्यक्त करने का अवसर है... जो ना केवल हमारे भविष्य के लिए बल्कि भावी पीढ़ियों के भविष्य के लिए भी...'' उन्होंने कहा, ‘‘ हर साल जनवरी में, हमें प्रत्येक बच्चे के जीवन के सफर की सभी संभावनाओं की याद दिलाई जाती है.....''

कंबल में बैठकर टीवी देख रहा था पति, पीछे से आई पत्नी और खोल दिया फ्रिज और फिर... देखें Video


संभवत: 2020 में सबसे पहले फिजी में बच्चे का जन्म हुआ, जबकि सबसे आखिरी नंबर अमेरिका का रहा. इस सूची में शामिल देश हैं भारत (67,385), चीन (46,299), नाइजीरिया (46,299), पाकिस्तान (16,787), इंडोनेशिया (13,020), अमेरिका (10,452), गणराज्य कांगो (10,247) और इथियोपिया (8,493).

स्वच्छ सर्वेक्षण लीग 2020 में ये शहर रहा सबसे स्वच्छ, जानिए कौन सा शहर रहा टॉप-10 में

हेनरिटा ने कहा कि यूनिसेफ हर साल जनवरी में विश्वभर में नववर्ष पर पैदा हुए बच्चों के जन्म का जश्न मनाता है. अनुमान है कि साल 2027 तक भारत आबादी के मामले में चीन को पीछे कर देगा.

New Year Eve पर शराब पीकर गाड़ी चलाने के मामले में दिल्ली में काटे गए 300 से ज्यादा चालान

संयुक्त राष्ट्र के अनुमानों के अनुसार, 2019 से 2050 के बीच भारत की आबादी 27.3 करोड़ बढ़ने का अनुमान है. इसी अवधि में नाइजीरिया की आबादी में 20 करोड़ की वृद्धि होने का अनुमान है. ऐसा होने पर इन दोनों देशों की कुल आबादी 2050 में वैश्विक आबादी में वृद्धि का 23 फीसदी होगी.

टिप्पणियां

राफेल और सुखोई फाइटर प्लेन का Video जारी, IAF ने कहा- 'मौत को हराना फितरत है'

2019 में चीन की आबादी 1.43 अरब और भारत की आबादी 1.37 अरब रही. सर्वाधिक आबादी वाले इन दोनों देशों ने 2019 में वैश्विक जनसंख्या में क्रमश: 19 और 18 फीसदी की हिस्सेदारी रखी.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग अध्यक्ष का दिल्ली पुलिस पर आरोप, कहा- दंगाइयों को दी जा रही खुली छूट

Advertisement